बीकानेर के युवा नेता मीडिया के सामने करेंगे खुलासा, आरोपियों में दहशत!

- केंद्र सरकार एवं आरबीआई की नोटबंदी में बीकानेर में सहारा इंडिया ने किया करोड़ों का लेन देन खुलासा न्यूज़, बीकानेर। अपने पिछले कार्यकाल में देश में काले धन के विरूद्ध कार्यवाही करने के लिए मोदी सरकार ने 8 नवम्बर 2016 से 31 दिसम्बर 2016 तक 500 एवं 1000 के नोटों को चलन के बाहर कर दिया एवं सरकारी, निजी बैंकों के अलावा सभी गेर सरकारी उपक्रमों, सोसायटियों आदि को बिलकुल मनाह था बन्द किए गए नोटों का लेन देन करने पर आरबीआई व सरकार द्वारा कार्यवाही की चेतावनी भी दी गई थी।

पर बीकानेर में सहारा इंडिया कम्पनी ने बन्द किए गए नोटों कि जमकर जमाए ली और लोगो ने भी अपने काले धन को सफेद करने के लिए सहारा में रुपए जमा करवा दिए। सहारा के राजेश रोहिल्ला, मनोज जैन, रमेश भेरुरानी, सज्जन सिंह ने आधे रुपयों की एफडीआर कर दी एवं आधे रुपयों कि आपस मै बंदर बांट कर ली। बीकानेर के कोलायत, लूणकरणसर, सिटी ब्रांच, नोखा, सुजानगढ़, सूरतगढ़, सीकर सहित सभी मुख्य स्थानों पर कार्यलय के ताला लगाकर बन्द ताले में ऑफिस बन्द करके बेकड़ोर से करोड़ों की जमाए ली गई।  इस सबके सबूत सामाजिक कार्यकर्ता डूंगर सिंह के पास सुरक्षित है जिसका वो मीडिया में जल्द खुलासा करेंगे एवं कानूनी मामला भी दर्ज करवाएंगे।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp