बीकानेर पुलिस ने बिहार में डेरा डाला, नहीं मिली सफलता, अब वापस हुई रवाना, भनक लगते ही मास्टर माइंड अपने परिवार के साथ हो गया फरार - Khulasa Online

बीकानेर पुलिस ने बिहार में डेरा डाला, नहीं मिली सफलता, अब वापस हुई रवाना, भनक लगते ही मास्टर माइंड अपने परिवार के साथ हो गया फरार

खुलासा न्यूज़ , बीकानेर । गजनेर पुलिस चार दिन से मुख्य आरोपी तस्कर के बिहार स्थित गांव मझगांव में डेरा डाला, लेकिन सफलता नहीं मिली। पता चला है की पुलिस के पहुंचने की भनक लगने पर तस्कर परिवार समेत घर से फरार हो गया । बीकानेर में नौ किलो अफीम भिजवाने वाले मुख्य तस्कर को लेकर गजनेर पुलिस को कई अहम सुराग मिले हैं। अब गजनेर पुलिस वापस बीकानेर के लिए रवाना हुई है । खुलासा न्यूज़ से बातचीत में गजनेर एसएचओ धर्मेंद्रिसंह ने बताया तस्कर को ढूंढने में पुलिस टीम जुटी है। कई अहम सुराग हाथ लगे हैं। शीघ्र अफीम सप्लायर को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उसकी गिरफ्तार के बाद कई और अहम जानकारियां मिलने की उम्मीद है, जिससे उनके नेटवर्क के बारे में पता चल पाएगा। तीन दिन डेरा डाला लेकिन पकड़ में नहीं आया , आरोपी को पुलिस की भनक लगते ही फ़रार हो गया । यह है मामला पड़ताल में मालूम चला है कि मुख्य तस्कर कई साल से नशे के काराेबार में लिप्त है। वर्ष 2007 में उसने गांव में डाेडा पाेस्त की खेती की थी, जिसे लेकर उसके खिलाफ थाने में एनडीपीएस एक्ट का मामला दर्ज है। उसके बाद से आराेपी राजस्थान में अफीम की सप्लाई कर रहा है। आराेपी डिमांड के अनुसार अलग-अलग जिलाें में अफीम की सप्लाई मणिपुर, नागालैंड, छतीसगढ़ से मंगवाकर देता है। पुलिस के मुताबिक तस्कर ने तीन-चार महीने पहले ही गांव में चार बीघा जमीन खरीदी है। साथ ही एक नई गाड़ी भी ली है। उसके पास दाे बाइक है। गांव में दाे मंजिला ऑलीशान मकान बना रखा है। आसपास में पता करने पर मालूम चला है कि मुख्य तस्कर पत्नी व बेटे के साथ कई साल से गांव में रहता है, जिसे पुलिस के यहां पहुंचने की भनक लग गई।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp