बीकानेर/ न्यूड कर युवक की हड्डियां तोड़ी, एफआईआर तीन दिन बाद, चार दिन बाद महिला ने क्रॉस में दर्ज करवाया मुकदमा - Khulasa Online

बीकानेर/ न्यूड कर युवक की हड्डियां तोड़ी, एफआईआर तीन दिन बाद, चार दिन बाद महिला ने क्रॉस में दर्ज करवाया मुकदमा

- श्रीडूंगरगढ़ थाना क्षेत्र का मामला खुलासा न्यूज, बीकानेर। आरोपियों के खिलाफ गवाही देने पर एक युवक को न्यूड कर हड्डियां तोड़ अधमरा करने के मामले में अब नया मोड़ सामने आया है। इस घटना के चार दिन बाद तीन आरोपियों में से एक आरोपी की पत्नी ने क्रॉस में श्रीडूंगरगढ़ पुलिस थाने में मुकदमा दर्ज करवाया है। महिला का आरोप है कि उसी रोज आरोपी (न्यूड युवक जिसके साथ मारपीट हुई) ने बलात्कार करने के आशय से उसे जबरदस्ती पकड़ लिया। उसने शोर शराबा किया तो आरोपी फरार हो गया।खुलासा न्यूज से बातचीत में थानाधिकारी वेदपाल ने बताया कि यह घटना बीकानेर जिले के श्रीडूंगरगढ़ के केऊ गांव में 7 मार्च की रात्रि की थी।

 

लेकिन 10 मार्च को यानि तीन दिन बाद इस केस में पीडि़त की ओर से मामला दर्ज करवाया।पीडि़त ने बताया कि 7 मार्च की रात व गाय ढूंढने निकला था। उसके घर के नजदीक ही घात लगाए बैठे तीनों आरोपियों ने उस पर लाठी, डंडों से हमला कर दिया। पहले उसके मुंह में तौलिया ठूंसा, फिर गाली-गलौज करने के साथ उसके कपड़े फाड़ दिए। आरोपी आधे घंटे तक उसे बुरी तरह पीटते रहे। इसके बाद आरोपियों ने न्यूज वीडियो भी सोशल मीडिया में वायरल कर दिया। पता चला है कि गांव के गोपाल सिंह (27) ने अपने ही गांव के मोहन सिंह, पूनम सिंह और प्रभु सिंह पर दर्ज किसी मुकदमे में गवाही दी थी। इसी बात से गुस्साए आरोपियों ने उसके साथ मारपीट की और वीडियो वायरल कर दिया। वहीं इस मामले में अब नया मोड़ सामने आया है।

 

इस घटना के चार दिन बाद तीन आरोपियों में से एक आरोपी की पत्नी ने क्रॉस में श्रीडूंगरगढ़ पुलिस थाने में मुकदमा दर्ज करवाया है। महिला का आरोप है कि उसी रोज यानि 7 मार्च की रात्रि को आरोपी (न्यूड युवक जिसके साथ मारपीट हुई) ने बलात्कार करने के आशय से उसे जबरदस्ती पकड़ लिया। उसने शोर शराबा किया तो आरोपी फरार हो गया। पीडि़ता की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 354 भादसं के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की। खुलासा न्यूज से बातचीत में थानाधिकारी वेदपाल ने बताया कि दोनों पक्षों की ओर से मुकदमा दर्ज करवाया गया है। अनुसंधान जारी है। दोषी पाए जाने वाले आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार किया जाएगा।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp