'मुर्दों का शहर नहीं है बीकानेर, प्रशासन को झुकना पड़ेगा, जोश व जुलूस के साथ निकाली जाएगी हिन्दू धर्मयात्रा' - Khulasa Online

‘मुर्दों का शहर नहीं है बीकानेर, प्रशासन को झुकना पड़ेगा, जोश व जुलूस के साथ निकाली जाएगी हिन्दू धर्मयात्रा’

खुलासा न्यूज बीकानेर। बीकानेर में धारा 144 लागू की गई है। बीकानेर नगरीय सीमा क्षेत्र में बिना पूर्व अनुमति के रैली, जुलूस, प्रदर्शनी इत्यादि का आयोजन पूर्णतया प्रतिबंधित रहेगा। जिला प्रशासन के इस आदेश के बाद आगामी 2 अप्रैल को प्रस्तावित हिन्दू धर्म यात्रा पर संकट के बादल मंडरा गए है। ऐसे में बीजेपी व संघ से जुड़े पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं का कहना है कि प्रशासन को कोटा की तर्ज पर बीकानेर प्रशासन को भी झुकना पड़ेगा और धारा 144 का आदेश वापस लेना होगा या धर्म यात्रा की अनुमति देनी होगी। हालांकि कलक्टर भगवती प्रसाद के आदेशों में यह बताया गया है कि अनुमति लेकर रैली, जुलूस आदि निकाले जा सकते है, लेकिन सोशल मीडिया पर यूजर्स अपनी भड़ास निकाल रहे है। इनका कहना है : मुर्दों का शहर नहीं है और ना ही नाथी का बाड़ा है। कोटा की तर्ज पर बीकानेर प्रशासन को भी धारा 144 का आदेश वापस लेना होगा। प्रस्तावित हिन्दू धर्मयात्रा जोश व जुलूस के साथ निकाली जाएगी। - वेद व्यास, भाजयूमो, शहर अध्यक्ष, बीकानेर ----- बीकानेर प्रशासन की तरह कोटा प्रशासन ने हाल ही में धारा 144 लागू की थी, लेकिन बीजेपी व संघ से जुड़े पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं के विरोध के चलते प्रशासन को झुकना पड़ा और प्रस्तावित हिंदू धर्म यात्रा निकालने की परमिशन देनी पड़ी। ऐसे में बीकानेर प्रशासन को भी 144 का आदेश वापस लेना होगा या फिर हिन्दू धर्मयात्रा निकालने की अनुमति देनी पड़ेगी। अन्यथा इसका परिणाम भुगतना होगा। - जसराज सींवर, अध्यक्ष, देहात भाजयूमो , बीकानेर  
error: Content is protected !!
Join Whatsapp