बीकानेर / लम्बित ऋण आवेदनों को सभी बैंक 31 दिसंबर तक निस्तारित करवाएं

बीकानेर। जिला कलेक्टर नमित मेहता ने कहा कि विभिन्न योजनाओं के तहत लम्बित ऋण आवेदनों को सभी बैंक 31 दिसंबर तक निस्तारित करवाना सुनिश्चित करें। मेहता ने गुरुवार को कलेक्ट्रेट सभागार में विभिन्न विभागों द्वारा भेजे गए ऋण आवेदनों के संबंध में बैंक प्रतिनिधियों के साथ रिव्यू करते हुए यह बात कही। मेहता ने कहा कि पाया गया है कि करीब 50 फीसदी आवेदनों पर ही कार्यवाही की गयी है। नियमानुसार ऋण आवेदन पत्र प्रस्तुत करने के 45 दिनों में प्रकरण में कार्यवाही करना अनिवार्य है। जिला कलेक्टर ने उद्धोग विभाग, अनुजा निगम, नगर निगम और महिला अधिकारिता विभाग की विभिन्न योजनाओं में आए आवेदनों का रिव्यू करते हुए कहा कि आवेदन पर स्वीकृति बैंक का पक्ष है लेकिन प्रकरण के निस्तारण में देरी अस्वीकार्य है। उन्होंने कहा कि जिन भी प्रकरणों को निस्तारित किया जा चुका है उनके पोर्टल पर अपडेशन का काम भी प्राथमिकता से किया जाए। जिला कलेक्टर ने कहा कि बैठक में बैंक प्रतिनिधि अपडेटेड डाटा लेकर उपस्थित रहें। सभी बैंक अपनी ब्रांच के साथ समन्वय करते हुए जिम्मेदार अधिकारियों से प्रकरण निस्तारित करवाएं। मेहता ने कहा कि बैंक की संवेदनशीलता से लोगों को लाभ मिलता है इसलिए योजनाओं की गहराई समझते हुए प्रकरणों के निस्तारण में गंभीरता रखें ताकि पात्र का भला हो सके। उन्होंने फसल बीमा के बकाया प्रकरणों में त्वरित कार्यवाही करने के निर्देश दिए।   इंदिरा गांधी क्रेडिट योजना पर दें विशेष ध्यान   जिला कलेक्टर नमित मेहता ने कहा कि इंदिरा गांधी क्रेडिट योजना राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है। बैंक इसके तहत आए आवेदन पत्रों के निस्तारण को प्राथमिकता दें। आवेदन मिलने पर तत्काल सत्यापन करते हुए लाभार्थी को मदद स्वीकृत करें। मेहता ने बताया कि योजना में जिले में 20 हजार 147 लोगों को लाभान्वित किया जाना लक्षित है। अब तक जिले में 6 हजार 287 आवेदन लिए जा चुके हैं।   बैठक में निगम आयुक्त अभिषेक खन्ना, अतिरिक्त जिला कलेक्टर (शहर )अरूण प्रकाश शर्मा, महाप्रबंधक जिला उद्योग केंद्र मंजू नैण गोदारा, उपनिदेशक सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, महिला अधिकारिता उपनिदेशक मेघा रतन, एलडीएम एम एम एल पुरोहित सहित संबंधित अधिकारी व बैंक प्रतिनिधि उपस्थित थे।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp