बीकानेर / सरपंच व थानेदार की मिलीभगत!, बालिका को भगा ले जाने से जुड़ा है मामला - Khulasa Online

बीकानेर / सरपंच व थानेदार की मिलीभगत!, बालिका को भगा ले जाने से जुड़ा है मामला

बीकानेर। नाबालिग बालिका को भगा ले जाने के मामले को लेकर  खाजूवाला थाने का घेराव किया गया। कुम्हार समाज के लोगों ने थाने के आगे धरना दिया। पुलिस के खिलाफ खूब नारेबाजी की गई। बाद में सीओ खाजूवाला के नाम ज्ञापन दिया गया। पुलिस थाने का घेराव हुआ तो थानाधिकारी रमेश सर्वटा ने वार्ता की। 16 जून को खाजूवाला निवासी नाबालिग बालिका को युवक बहला फुसलाकर भगा ले गया था। दीपक नाम के युवक के खिलाफ धारा 363 व 366 आईपीसी में मुकदमा दर्ज हुआ, मगर अब तक बालिका को बरामद नहीं किया गया है।

इसी मामले में खाजूवाला पुलिस घिर गई है। शहर भाजपा बीकानेर के उपाध्यक्ष व बीपीएच राजस्थान के प्रदेश संयोजक अधिवक्ता अशोक प्रजापत के अनुसार पुलिस इस मामले में आरोपियों का साथ दे रही है। वहीं पीड़ित पक्ष को धमकाया जा रहा है। समाज के अध्यक्ष चंपालाल गेधर ने बताया कि थानाधिकारी रमेश सर्वटा ने नाबालिग की तलाश में लगने वाले वाहन खर्चे के नाम पर 25 हजार रूपए देने को कहा, जो कांस्टेबल को दिए गए। इसके बाद अब फिर 70 हजार रूपए की मांग की जा रही है। प्रजापत का कहना है कि सरपंच के कहने पर थानाधिकारी आरोपी युवक की शह ले रहे हैं। सरपंच ने बालिका को बालिग बताने वाला फर्जी जन्म प्रमाण पत्र भी बना दिया। जिसका मुकदमा दर्ज करवाने के लिए पीड़ित पिता को न्यायालय की शरण लेनी पड़ी।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp