संभल जाइए युवा, बदलती लाइफस्टाइल से कहीं चपेट में न आ जाए इस रोग से, क्या कहते है एक्सपर्ट डॉ. सिरोही - Khulasa Online

संभल जाइए युवा, बदलती लाइफस्टाइल से कहीं चपेट में न आ जाए इस रोग से, क्या कहते है एक्सपर्ट डॉ. सिरोही

- युवा हो रहे डायबिटीज के शिकार, मुख्य कारण- बिगड़ी लाइफस्टाइल, एक्सपर्ट डॉ. सिरोही खुलासा न्यूज, बीकानेर। जिले में पिछले काफी समय से 30 साल के युवाओं में डायबिटीज के मामले बढऩे लगे है। बदलते दौर में युवाओं में डायबिटीज के मामले बढऩे की वजह खराब खान-पान और बिगड़ी लाइफस्टाइल है। युवा जंक फूड खाना पसंद करते हैं, जबकि व्यायाम नहीं करते हैं। इससे उनमें मोटापे के साथ-साथ डायबिटीज दस्तक देती जा रही है। यूथ जंक औैर फास्ट फूड खाने और बार-बार चाय/काफी पीने की वजह से डायबिटीज की गिरफ्त में जा रहा हैं।

डायबीटीज होने के दो कारण है पीबीएम अधीक्षक और मेडिसन विभाग के सीनियर प्रोफेसर डॉ.परमेन्द्र सिरोही कई शोधों के आधार पर बतातो हैं कि बीकानेर की औसत 15-20 प्रतिशत आबादी डायबिटीज ग्रसित है। सबसे ज्यादा डायबिटीज के के शिकार 45 साल से ऊपर वाले है। लेकिन पिछले काफी समय से युवा भी इसकी चपेट में आ रहे है। इसका दो कारण है। पहला- कोविड। दूसरा बिगड़ी लाइफस्टाइल। कई कोरोना पॉजीटिव मरीजों में शुगर लेवल बढ़ा हुआ देखने को मिला। सिरोही बताते है कि अस्पताल के रेजीडेंट डॉक्टर व नर्सिंग कर्मचारी कोरोना की चपेट में आए। इस दौरान कई रेजीडेंट डॉक्टर व नर्सिंग कर्मचारियों का शुगर लेवल बढ़ गया। हालांकि कुछ दिन बाद शुगर लेवल सामान्य हो गया। उन्होंने बताया कि कोरोना की संभावित तीसरी लहर व अन्य संक्रामक बीमारियों के चलते लोगों को सेहत पर फोकस करते हुए डायबिटीज से बचना होगा। रोज 6-10 कप मीठी चाय पीने वाले लोग भी डायबिटीज का तेजी से शिकार होते जा रहे हैं। बदलते दौर में अब यह बीमारी युवाओं को भी जकड़ रही है। यूथ जंक औैर फास्ट फूड खाने और बार-बार चाय/काफी पीने की वजह से डायबिटीज की गिरफ्त में जा रहा हैं। इसलिए बिना दवा खाए डायबीटीज से बचना होगा और लाइफस्टाइल बदलनी पड़ेगी।

बिना दवा खाए डायबिटीज से ऐसे बच सकते हैं आप सप्ताह में 5 दिन 45 से 50 मिनिट तक कसरत करें। स्विमिंग करें, क्योंकि ये डायबिटीज को नियंत्रित करने का सबसे अच्छा तरीका है। प्रतिदिन 5 किलोमीटर वॉक। रोज एक घंटा साइकिलिंग। 30 मिनिट एरोबिक व डांस। आउटडोर गेम खेलना चाहिए। जैसे बैडमिंटन, टेबल- टेनिस, वालीबॉल आदि। 30 मिनिट अनुलोम-विलोम-प्राणायम-योगासन। मीठा खाने से बचें। जंक औैर फास्ट फूड से परहेज करें। वजन को नियंत्रित करें। तले खाद्य पदार्थ खाने से बचें। घी और मक्खन कम खाएं। प्रोटीन वाली चीजें ज्यादा लेवें। दिनभर में पानी 5 लिटर से ज्यादा पीएं।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp