राजस्थान में विवाह समारोहों पर भी लगाया गया बैन, गहलोत का बड़ा फैसला - Khulasa Online

राजस्थान में विवाह समारोहों पर भी लगाया गया बैन, गहलोत का बड़ा फैसला

  • प्रदेश में विवाह समारोहों पर भी लगाया गया बैन, विवाह के तौर पर सिर्फ दूल्हा और दुल्हन ले सकते फेरे, घोड़ी, बारात, घराती, समारोह पर 31 मई तक प्रतिबंध
  • जयपुर :
  • राजस्थान में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार ने प्रदेश में संपूर्ण लॉकडाउन घोषित किया है. लॉकडाउन (Rajasthan New Corona Guideline) 10 मई सुबह 5:00 से 24 मई सुबह 5:00 बजे तक रहेगा. लॉक डाउन की पाबंदियों के तहत प्रदेश में शादियों पर रोक लगाने साथ ही अति आवश्यक सेवाओं को छोड़कर अन्य सभी गतिविधियों पर पूरी तरह रोक लगा दी गई है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मंत्री परिषद की बैठक के बाद संपूर्ण लॉकडाउन (Complete Lockdown in Rajasthan) लगाने की घोषणा की.
  • प्रदेश में कोरोना संक्रमण का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है. संक्रमण को रोकने के लिए राज्य में महामारी रेड अलर्ट जन अनुशासन पखवाड़ा चल रहा है. बावजूद इसके कोरोना संक्रमण (Coronavirus) काबू में नहीं आ रहा. ऐसे में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को मुख्यमंत्री निवास पर हुई राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक में संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए और सख्त कदम उठाने के लिए 5 मंत्रियों के एक समूह का गठन किया.
  • मंत्री समूह ने गुरुवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) को अपनी रिपोर्ट सौंपी. इस रिपोर्ट में सख्त कदम उठाने के साथ ही लॉकडाउन लगाने जैसे सुझाव दिए. इसके बाद गुरुवार रात मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot News) की अध्यक्षता में एक बार फिर मंत्री परिषद की बैठक में समिति मंत्री समूह की सिफारिशों पर मंथन किया गया. इसके बाद लॉकडाउन (Lockdown Guideline in Rajasthan) लगाने की घोषणा की गई.
  • इनकी सिफारिशों पर लिया गया लॉकडाउन का फैसला
  • प्रदेश में लॉक डाउन (Lockdown in Rajasthan) के लिए सुझाव देने वाले मंत्री समूह में नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल, जलदाय मंत्री डॉ. बीडी कल्ला, चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा, शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद सिंह डोटासरा तथा चिकित्सा राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग शामिल किया गया था.
error: Content is protected !!
Join Whatsapp