बॉर्डर पर पाक से आने वाली हेरोइन की खेप लेने के चक्कर में गिरफ्तार

श्रीगंगानगर। सीमा सुरक्षा बल की इंटेलीजेंस शाखा जी ब्रांच की सूचना पर पाकिस्तान से आने वाली हेरोइन की खेप लेने बॉर्डर पर आकर गिर तार हुए तीन तस्करों से केसरीसिंहपुर थाना पुलिस गहनता से पूछताछ कर रही है। पुलिस ने इनको दो दिन के रिमांड पर लिया था। जल्द ही इनकी विभिन्न एजेंसियों की ओर से संयुक्त पूछताछ कराई जाएगी। केसरीसिंहपुर थाना प्रभारी आलोक सिंह ने बताया कि सीमा सुरक्षा बल क्षेत्रीय मु यालय श्रीगंगानगर की सामान्य शाखा को 77वीं वाहिनी श्रीकरणपुर के सीमा क्षेत्र में पंजाब के संदिग्ध तस्करों के आने का इनपुट मिला था। इस पर सीमा क्षेत्र की नाकाबन्दी की गई। जिसमें जी ब्रांच के उप कमांडेंट जितेन्द्र नांगल के नेतृत्व में टीमें वहां तैनात की गई और चौकसी बढ़ा दी गई। इसी दौरान पता चला की इसी वाहिनी की सीमा चौकी कोहली के इलाके में राधा स्वामी सतसंग व्यास की तरफ से एक पंजाब की कार सीमा क्षेत्र में धूम रही है। रात करीब 3 बजे इस कार को चिन्हित किया गया। जिसमें पंजाब के रहने वाले तीन युवक सवार थे। सीमा सुरक्षा बल के कार्मिकों को देखकर तीनों घबरा गए और भागने की कोशिश की। लेकिन सतर्क सीमा सुरक्षा बल के कार्मिकों ने उन्हे पकड लिया और उनके वहां पर आने और सीमा सुरक्षा बल के कार्मिकों को देखकर भागने का कारण पुछा तो कोई संतोषजनकर जवाब नहीं दिया। संदेहास्पद होने पर उनसे उनके पहचान पत्र मागें लेकिन सभी ने असमर्थता दर्शाते हुए मना कर दिया। इसके बाद गहन पूछताछ की गई। इस दौरान उन्होंने बीएसएफ अधिकारियों को बताया कि वे पंजाब के फिरोजपुर जिले के रहने वाले है और यहां पर पाकिस्तान की तरफ से आने वाली हेरोइन की खेप लेने के लिए आए थे। लेकिन सीमा सुरक्षा बल की मुस्तैदी की वजह से वे इस काम में असफल रहे। सीमा पार से आने वाली खेप फिरोजपुर निवासी व तस्कर नरवैल सिंह पुत्र बलदेव सिंह के इशारे पर उन्हे मिलने वाली थी। पकड़े गए अमरजीत सिंह पुत्र चरनसिंह, गुरजन्ट सिंह पुत्र बलदेव सिंह और निरवेल सिंह पुत्र सरवन सिंह को केसरीसिंहपुर पूलिस को सौंप दिया था। पुलिस ने मामला दर्ज कर तीनों को गिर तार कर लिया। जिनको सोमवार को अदालत में पेश करके दो दिन के रिमांड पर लिया गया है। थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपियों से गहनता से पूछताछ की जा रही है। जो बता रहे हैं कि उसकी तस्दीक कराई जा रही है। जल्द ही इनकी संयुक्त पूछताछ भी कराई जा सकती है।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp