कीव में एक भारतीय छात्र गोलीबारी में घायल - Khulasa Online

कीव में एक भारतीय छात्र गोलीबारी में घायल

मास्को/कीव। जपोरिजिया प्लांट में रूसी सैनिकों के हमले का यह वीडियो यूक्रेनी प्रेसीडेंट जेलेंस्की ने ट्वीट किया है। जंग के नौंवे दिन रूसी सेना की गोलीबारी से जपोजिरिया एटमी प्लांट में आग लग गई है। हालांकि निदेशक अलेक्जेंडर स्टारुख ने कहा कि प्लांट सुरक्षित है, रूसी सेना ने गोलीबारी के बाद एडमिन और कंट्रोल बिल्डिंग में कब्जा कर लिया है। लेकिन वे यूक्रेनी बचाव दल के फायर फाइटर्स को प्लांट में जाने से रोक रहे हैं।यूएस प्रेसिडेंट बाइडेन ने रूस से बात करके जपोरिजिया

में इमरजेंसी रिस्पॉन्डर्स को अंदर जाने की परमिशन देने की अपील की है।इस बीच पौलेंड में भारतीयों को लेने गए रिटायर जनरल वीके सिंह ने जानकारी दी कि कीव में एक और भारतीय छात्र को गोली लगी है, जिसका इलाज चल रहा है। जपोरिजिया प्लांट में ब्लास्ट से खतरा क्योंयूक्रेन के विदेश मंत्री दिमित्रो कुलेबा ने शुक्रवार सुबह बताया कि रूसी सेना यूरोप के सबसे बड़े न्यूक्लियर पावर प्लांट जपोरिजिया पर रूस ने चारों तरफ से गोलीबारी की। प्लांट में आग पहले ही भडक़ चुकी है। अगर इसमें ब्लास्ट होता है, तो यह चेरनोबिल से 10 गुना बड़ा होगा। जहां 6 न्यूक्लियर रिएक्टर हैं। पावर प्लांट की साइट के पास रेडिएशन के हाई लेवल का पता चला है। यह प्लांट यूक्रेन के इलेक्ट्रिसिटी प्रोडक्शन लगभग 25त्न बनाता है।यूक्रेन ने ढ्ढ्रश्व्र को बताया कि जपोरिजिया न्यूक्लियर पावर प्लांट की साइट पर आग लगने से जरूरी उपकरण प्रभावित नहीं हुए हैं।यूक्रेन ने ढ्ढ्रश्व्र को बताया कि जपोरिजिया न्यूक्लियर पावर प्लांट की साइट पर आग लगने से जरूरी उपकरण प्रभावित नहीं हुए हैं।इंटरनेशनल एटॉमिक एनर्जी एजेंसी ने ट्वीट में बताया कि-आईएईए स्थिति के बारे में यूक्रेनी अधिकारियों के संपर्क में जपोरिजिया न्यूक्लियर पावर प्लांट पर हो रही गोलाबारी से वाकिफ है। ढ्ढ्रश्व्र के महानिदेशक राफेल मारियानो ग्रॉसी ने यूक्रेन के प्रधान मंत्री डेनिस श्मायगल और यूक्रेनी न्यूक्लियर रेग्युलेटर और ऑपरेटर के साथ बात की। उन्होंने फोर्सेस को रोकने की अपील की है। उन्होंने रिएक्टरों के ब्लास्ट से गंभीर खतरे की चेतावनी दी है।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp