शाहरुख खान के सभी विज्ञापन रोके, प्री-बुकिंग के बावजूद रिलीज नहीं किए जा रहे ऐड

मुंबई। ड्रग्स केस में फंसे आर्यन खान के केस का बुरा असर अब उनके पिता शाहरुख खान के प्रोफेशन पर पडऩे लगा है। लर्निंग ऐप क्चङ्घछ्व'स् (बायजूस) ने बॉलीवुड एक्टर के सभी विज्ञापनों पर रोक लगा दी है। इतना ही नहीं शाहरुख के प्री-बुकिंग ऐड की रिलीजिंग भी नहीं की जा रही है। शाहरुख की स्पॉन्सरशिप डील्स में बायजूस सबसे बड़ा ब्रांड था। इस ब्रांड को एंडोर्स करने के बदले शाहरुख को सालाना 3 से 4 करोड़ रुपए मिलते थे। वे 2017 से कंपनी के ब्रांड एंबेसडर हैं। इसके अलावा उनके पास बैंक, रिलायंस जियो, रुत्र, दुबई टूरिज्म, हुंडई जैसी करीब 40 कंपनियों का एंडोर्समेंट हैं। शाहरुख खान के बेटे ने ड्रग्स लेने की बात मानी, हृष्टक्च को बताया- मैं चरस पीता हूं कंपनी को क्यों लेना पड़ा फैसला आर्यन की गिरफ्तारी के बाद सोशल मीडिया पर शाहरुख की ट्रोलिंग शुरू हो गई थी। लोगों ने ब्रांड्स को भी टारगेट करना शुरू कर दिया था, जिनका विज्ञापन शाहरुख करते हैं। सोशल मीडिया पर लोग से सवाल पूछ रहे थे कि कंपनी शाहरुख को ब्रांड एंबेसडर बनाकर क्या संदेश दे रही है? क्या एक्टर अपने बेटे को यही सब सिखाते हैं। के बाद दूसरा सबसे बड़ा स्टार्टअप बायजू रविंद्रन का एडुटेक स्टार्टअप बायजूस डेकाकॉर्न क्लब में शामिल है। 10 अरब डॉलर का वैल्यूएशन हासिल करने वाले स्टॉर्टअप को डेकाकॉर्न कहा जाता है। स्टार्टअप के लिए यह बहुत ही सम्मानजनक उपलब्धि मानी जाती है। सिलिकॉन वैली की निवेशक और एनालिस्ट मैरी मीकर्स की इनवेस्टमेंट कंपनी बांड कैपिटल ने बायजूस में 10.5 अरब डॉलर के वैल्यूशन पर निवेश किया था। 10.5 अरब डॉलर 79,409 करोड़ रुपए के बराबर होता है।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp