53 दिनों बाद बिना व्हीलचेयर दिखीं ममता, कहा- डबल सेंचुरी की उम्मीद पहले से थी, पर अभी कोई जश्न नहीं - Khulasa Online

53 दिनों बाद बिना व्हीलचेयर दिखीं ममता, कहा- डबल सेंचुरी की उम्मीद पहले से थी, पर अभी कोई जश्न नहीं

अपने सूबे में दोहरा शतक लगाने के बाद ममता रविवार शाम को सबके सामने आईं। करीब 53 दिनों बाद लोगों ने उन्हें अपने पैरों पर खड़ा पाया। व्हील चेयर नदारद थी। सामने भीड़ और उसका शोरशराबा। ममता जितनी खुश थीं, उससे कम दिखा रही थीं। उन्होंने कहा कि इतनी बड़ी जीत का जश्न अभी नहीं होगा। जब कोरोना खत्म होगा, तब करेंगे इसका स्वागत। फिर बरस पड़ीं सब पर... सरकार से लेकर चुनाव आयोग तक, सब पर। कहा लड़ेंगे, जीतने तक। छोड़ेंगे किसी को नहीं।

'हम इस ऐतिहासिक जीत के लिए बंगाल के लोगों के आभारी हैं। मैंने पहले से ही 221 सीटों का लक्ष्य तय किया था। अमित शाह हर बार कह रहे थे कि बंगाल में 200 पार करेंगे। मैं कह रही थी कि हम 200 के पार जाएंगे। बंगाल में डबल इंजन नहीं, बल्कि डबल सेंचुरी की सरकार चलेगी। ये बंगाल की और बंगाल के लोगों की जीत है। ये बंगाल को बचाने के लिए हुई जीत है। खेला होबे और जय बांग्ला जैसे उद्घोषों ने चुनावों के दौरान बहुत काम किया।

हम इस ऐतिहासिक जीत का कोई जश्न नहीं मनाएंगे। हमारा शपथ ग्रहण समारोह भी छोटा ही होगा। अब हम कोविड के खिलाफ जंग लड़ेंगे। जनता जिस तकलीफ में है, हम उसे दूर करेंगे और सिर्फ जनता के लिए काम करेंगे। बंगाल के हर व्यक्ति को वैक्सीन फ्री दी जाएगी। मैं प्रधानमंत्री से अपील करती हूं कि हमें फ्री में वैक्सीन देनी होगी। अगर ऐसा नहीं हुआ तो मैं गांधी प्रतिमा के सामने बैठूंगी और पूरे देश के लिए फ्री वैक्सीन की मांग करूंगी।'

error: Content is protected !!
Join Whatsapp