बारिश से रेगिस्तान में बहने लगी नदी: बीकानेर सहित इन जिलों में तूफानी बारिश की चेतावनी - Khulasa Online

बारिश से रेगिस्तान में बहने लगी नदी: बीकानेर सहित इन जिलों में तूफानी बारिश की चेतावनी

खुलासा न्यूज, बीकानेर ।  राजस्थान में आज मौसम के दो अलग-अलग रूप देखने को मिल रहे है। गर्मी से तप रहे पश्चिमी राजस्थान के जैसलमेर, बाड़मेर, बीकानेर में आज राहत की बारिश हुई। इन जिलों में आज सुबह से बादल छाए रहे और उसके बाद तेज बारिश हुई। वहीं, पूर्वी राजस्थान के जयपुर, भरतपुर, अलवर, नागौर, सीकर क्षेत्र में तेज गर्मी और उमस ने लोगों के पसीने छुटा दिए।आज बीकानेर, बाड़मेर, जैसलमेर, जालौर क्षेत्र में सुबह से बादल छाए रहे। हवा कम चलने से वहां कुछ समय तो उमस रही, लेकिन सुबह 11 बजे बाद वहां आंधी चलनी शुरू हो गई और देखते ही देखते बारिश का दौर शुरू हो गया। बाड़मेर के शिव, चोहटन सहित कई जगहों पर तेज बारिश हुई। जैसलमेर जिले और उसके दूर-दराज के रेगिस्तानी इलाकों में भी तेज बारिश के बाद हुई, जिसके बाद कई जगहों तो पानी की नदियां से बहने लगी। जिले के सीमावर्ती रामगढ़ क्षेत्र में आसूतर मार्ग पर दस रीडमल माइनर (नहरी क्षेत्र) बरसाती पानी बहने लगा। बीकानेर जिले में भी पाकिस्तान से लगते सीमावर्ती क्षेत्रों में अच्छी बारिश हुई, जिसके बाद इन जिलों में तापमान 2-3 डिग्री तक नीचे आ गया। इधर, दक्षिण राजस्थान के कोटा, चित्तौड़गढ़, राजसमंद, भीलवाड़ा, उदयपुर और सिरोही के कुछ हिस्सों में बादल छाए रहे। बांसवाड़ा में तड़के तेज आंधी के साथ बारिश हुई। यहां शहर की सिंधी कॉलोनी में मकान के बाहर नीम के पेड़ की बड़ी शाखा टूटकर गिर गई, जिससे पेड़ के नीचे खड़ी कार का छत्त का हिस्सा टूट गया। वहीं तेज आंधी के कारण यहां कई जगह बिजली पोल भी गिर गए। अब आगे क्या? मौसम विभाग ने पश्चिमी राजस्थान में 18 जून को 30-50 किलोमीटर गति से तेज हवाएं चलने की चेतावनी जारी की है। साथ ही आज उदयपुर, अजमेर संभाग के कई जिलों में बारिश होने की संभावना जताई है।   जैसलमेर, बाड़मेर, बीकानेर  में अगले 3-4 दिन अलग-अलग जगहों पर प्री-मानूसन की बारिश होने की भी संभावना मौसम विभाग ने जताई है।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp