बीकानेर के 26 हॉस्टलों में एडमिशन की प्रक्रिया शुरू, कक्षा छह से बारहवीं तक के स्टूडेंट्स को मिलेगी फ्री सुविधा - Khulasa Online बीकानेर के 26 हॉस्टलों में एडमिशन की प्रक्रिया शुरू, कक्षा छह से बारहवीं तक के स्टूडेंट्स को मिलेगी फ्री सुविधा - Khulasa Online

बीकानेर के 26 हॉस्टलों में एडमिशन की प्रक्रिया शुरू, कक्षा छह से बारहवीं तक के स्टूडेंट्स को मिलेगी फ्री सुविधा

खुलासा न्यूज बीकानेर। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा जिले के 26 छात्रावासों में वर्ष 2024-25 के लिए ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया बुधवार से प्रारंभ हुई। प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदन एसएसओ पर नवीन प्रवेश पोर्टल MJMS के माध्यम से किए जा सकते हैं। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के संयुक्त निदेशक एलडी पंवार के अनुसार जिले में कक्षा 6 से 12 तक के छात्रों के लिए 4 विद्यालय स्तरीय छात्रावास संचालित किए जा रहे हैं। इसी प्रकार छात्राओं के लिए सावित्री बाई फूले राजकीय कन्या छात्रावास संचालित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि कोलायत, दियातरा, बज्जू खालसा, श्रीडूंगरगढ़, लूनकरणसर, पांचू, नोखा, जसरासर, पूगल, खाजूवाला, छत्तरगढ़, दंतौर ब्लॉक पर कक्षा 6 से 12 के छात्रों के लिए विद्यालय स्तरीय डॉ. भीमराव अम्बेडकर राजकीय छात्रावास संचालित किए जा रहे हैं।

संयुक्त निदेशक पंवार के अनुसार एम.एस कॉलेज के सामने महाविद्यालय स्तरीय सावित्री बाई फूले बालिका छात्रावास है। इसी परिसर में विद्यालय स्तरीय कक्षा 6 से 12 के लिए छात्राओं के लिए सावित्री बाई फूले कन्या छात्रावास संचालित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जेएनवी कॉलोनी रोड पर पॉलिटेक्निक कॉलेज के सामने स्थित राजकीय आर्थिक पिछड़ा वर्ग बालिका महाविद्यालय स्तरीय छात्रावास संचालित किया जा रहा है। विभागीय छात्रावासों में आवासित छात्र एवं छात्राओं को निशुल्क आवास, भोजन, वस्त्र, स्टेशनरी, शिक्षण प्रशिक्षण, खेलकूद एवं कठिन विषयों हेतु विशेष कोचिंग, कम्प्यूटर शिक्षा की सुविधा व अन्य सुविधा भी उपलब्ध करवाई जाती है। विभाग द्वारा अनुदानित छात्रावास भी संचालित किया जा रहा है। विद्यालय स्तरीय कक्षा 6 से 12 तक के लिए जय भीम छात्रावास, कृष्णा पेट्रोल पंप के पीछे, मुक्ता प्रसाद नगर एवं त्रिलोक मेघवंशी छात्रावास, नोखा में संचालित किया जा रहा है।

 

ये योग्यता होना जरूरी

 

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के संयुक्त निदेशक एल डी पंवार के अनुसार आवेदक राजस्थान का मूल निवासी हो तथा गत कक्षा में 40 प्रतिशत अंक व इससे अधिक प्राप्त होने पर ही प्रवेश दिया जाएगा। छात्र-छात्रा के परिवार की वार्षिक आय 8 लाख रुपए से अधिक नहीं होनी चाहिए। जिन छात्र-छात्राओं के माता-पिता राजस्थान सरकार के कर्मचारी हैं एवं लेवल 11 तक (अधिकतम 8 लाख रुपए वार्षिक) वेतन प्राप्त कर रहे हो, वह अभ्यर्थी आवेदन करने के लिए पात्र हैं। उन्होंने बताया कि ऑनलाईन प्रवेश पोर्टल पर आवेदन पत्र, जन आधार कार्ड के माध्यम से लिए जाएंगे। जनाधार पार्टल पर आवेदन की सूचना को प्रमाणिक मानकर राज ई वोल्ट/डीजी लॉकर अथवा जारीकर्ता एजेन्सी द्वारा संधारिक्ष वेब सर्विस से प्राप्त कर स्वत: सत्यापित होंगे।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp 26