अब बिजली का बिल जमा करवाना हुआ आसान,पढ़े पूरी खबर

बीकानेर। बिजली उपभोक्ताओं को लाईन में खड़े होने के झंझट से मुक्ति दिलाने बीकानेर इलेक्ट्रिक सप्लाई लिमिटेड ने नवाचार किया है। बिजली कंपनी उपभोक्ताओं की सुविधा के लिये बिल जमा करवाने की प्रक्रिया को सरल किया है। जिसको देखते हुए कैश वैन आपके द्वारा योजना शुरू की है। यह वैन शहर के विभिन्न क्षेत्रों में सुबह 10 बजे से सायं 5 बजे तक उपलब्ध रहेगी। सीओओ शांतनू भट्टाचार्य ने बताया कि 15 जून को यह वैन गांधी चौक गंगाशह,17 जून को डाक बंगला रेलवे स्टेशन के पास,18 जून को नत्थूसर गेट,19 जून को जस्सूसर गेट,20 जून को रतनबिहारी पार्क,21 जून को अम्बेडकर सर्किल उपलब्ध रहेगी। इस वैन में जाकर उपभोक्ता अपना बिल जमा करवा सकते है। प्रत्येक शनिवार को यह सुविधा सुबह 10 बजे से 2 बजे तक रहेगी। वैध कनेक्शन लें कार्रवाई से बचें न वीसीआर और न जुर्माना बीकेईएसएल की ओर से शहर के सभी क्षेत्रों में नए कनेक्शन के लिए शिविर लगाए जाने तथा एईएन कार्यालयों में भी तत्काल कनेक्शन जारी करने की सुविधा होने के बाद भी कई लोगों ने बिजली कनेक्शन नहीं ले रहे हैं और अवैध रूप से आंकड़े डालकर बिजली का उपभोग कर रहे हैं। बीकेईएसएल ऐसे लोगों को वैध बिजली कनेक्शन लेने के लिए अंतिम मौका देने जा रही है। बीकेईएसएल के सीओओ शांतनू भट्टाचार्य ने बताया कि कम्पनी ने ऐसे सभी लोगों का सर्वे करा लिया है, जो बिना वैध कनेक्शन लिए, अवैध रूप से बिजली का उपभोग कर रहे हैं, ऐसे लोगों का कंपनी के पास पूरे सबूतों सहित रिकॉर्ड उपलब्ध है। कंपनी घरेलु व कृषि कनेक्शन की श्रेणी में लोगों को वैध कनेक्शन लेने के लिए अंतिम अवसर दे रही है। यदि ये लोग  कंपनी से वैध बिजली कनेक्शन ले लेते हैं तो उनके खिलाफ अब तक अवैध रूप से उपभोग की गई बिजली के मामले में कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी। भ्ट्टाचार्य ने बताया कि आंकड़े डालकर अवैध रूप से बिजली का उपभोग करने के मामले में यदि पूर्व में ऐसे लोगों के खिलाफ कोई वीसीआर भरी गई है तथा उन्होंने वीसीआर राशि जमा नहीं कराई है तो  वैध कनेक्शन लेने पर उन्हें वीसीआर राशि में  छूट दी जाएगी। यदि ऐसे लोग वैध कनेक्शन नहीं लेते हैं तो उनके खिलाफ आंकड़े डालकर अवैध रूप से बिजली का उपभोग करने के मामले में वीसीआर भरी जाएगी तथा थाने में एफआईआर भी दर्ज कराई जाएगी। भ्ट्टाचार्य ने बताया कि यदि उपभोक्ता गरीब है और नए कनेक्शन के लिए एक मुश्त डिमाण्ड नोट की राशि जमा नहीं करा सकते हैं तो एक किलोवाट तक के कनेक्शन के लिए उनसे डिमाण्ड राशि किश्तों में देने की छूट भी दी जाएगी। मीटर में गड़बड़ की हुई है तो खुद बताएं, जुर्माने व कानूनी कार्रवाई से बचें- बीकेईएसएल के सीओओ भ्ट्टाचार्य ने बताया कि बीकेईएसएल ने अपने ऐसे उपभोक्ताओं को भी  कार्रवाई व जुर्माने से बचने का अवसर दिया है, जिन्होंने अपने मीटर में गड़बड़ी करवाकर उसकी गति धीमी करवाई हुई या सर्विस लाइन में कट लगाकर बिजली चोरी की हुई है। ऐसे उपभोक्ता यदि  स्वयं कंपनी के संबंधित एईएन कार्यालय में आकर मीटर में की हुई गड़बड़ी के बारे में बता देते हैं तथा आगे से बिजली चोरी से तौबा कर लेते हैं तो कंपनी की ओर से उनसे कोई जुर्माना नहीं लिया जाएगा और न ही उनके खिलाफ विद्युत अधिनियम 2003 की विभिन्न धाराओं में कार्रवाई की जाएगी। बीकेईएसएल की ओर से ऐसे उपभोक्ताओं के घरों में नया मीटर व सर्विस केबल सही तरीके से लगा दी जाएगी। इस छूट में पूर्व में भरी हुई वीसीआर के मामले शामिल नहीं होंगे। उन्होंने बताया कि बिजली चोरी की स्वघोषणा नहीं करने वाले लोगों के खिलाफ बीकेईएसएल सख्ती से कार्रवाई शुरू करेगी। इस दौरान बिजली चोरी पाए जाने पर लोगों के खिलाफ विद्युत अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाएगी।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp