>


बीकानेर। नयाशहर पुलिस द्वारा रात को युवक को गिरफ्तार करने के मामले में लोगों ने हंगामा खड़ा कर दिया और पुलिस थाने सहित मंत्री डॉ. बी.डी.कल्ला के घर के आगे प्रदर्शन कर रहे है। प्रदर्शनकारियों ने का कहना है कि नयाशहर पुलिस लड़कों पर झूठे मुकदमें दर्ज कर उनको गिरफ्तार कर रही है। प्रदर्शन कर रहे एनएसयूआई के प्रदेश महासचिव सुन्दर बैरड़ ने बताया कि पिछले दो दिनों में पुलिस ने हमारे साथियों पर झूठे मुकदमें दर्ज कर दिए, उन्होंने बताया कि हमने पुलिस ने यह तक सबूत दे दिया कि जिस पर आपने मुकदमा दर्ज किया है वो लोग बीकानेर में मौजूद ही नहीं थे। बैरड़ ने बताया कि बीती रात को नयाशहर पुलिस थाने का एक सिपाही जस्सूसर गेट पर खड़े कुछ लड़कों पर गाली-गलौच करने तेज गति से गाड़ी चलाने का झूठा मुकदमा लगा दिया। साथ ही पुलिस की गाड़ी ने लड़कों की गाड़ी को घेरकर गाड़ी के टायरों की हवा निकाल दी और तोडफ़ाड़ की। साथ ही सुबह चार बजे पुलिस उन लड़कों के घर पर जाकर उठा लिया और थाने लेकर आ गए। बैरड़ ने बताया कि जब सुबह हम मुकदमा दर्ज करवाने गए तो पुलिस ने हमारी एप्लीकेशन ली नहीं और थक्का देकर वहां से निकाल दिया।बैरड़ ने कहा कि नयाशहर पुलिस हमारे साथियों पर झूठे मुकदमें लगा रही है और हमारे साथ दुव्र्यवहार कर रही है। ऐसे में हमारी मांग है कि नयाशहर थाने के दो सिपाहियों को तुरंत लाईन हाजिर करों और थानाधिकारी को भी यहां से हटाओ।वहीं इस मामले में नयाशहर सीआई वेदप्रकाश जांगिड़ का कहना है कि बीती रात को गश्त के दौरान पुलिस सिपाही के साथ कुछ लोगों ने मारपीट की और राजकार्य में बाधा पहुंचाई। इसी मामले में मुनीराम कूकणा को गिरफ्तार किया गया है। दोपहर में समझाईश व वार्ता करने पहुंचे प्रदर्शनकारियों व पुलिस के बीच सफल वार्ता नहीं होने के कारण भारी संख्या में लोग थाने के बाहर इक्कठे हो गए है और प्रदर्शन कर रहे है।