>


खुलासा न्यूज़, बीकानेर। एम.एस. कॉलेज की छात्रा के साथ हुई हैवानियत निर्भयकांड से भी घिनौना कदम है। इस घटना के बाद बीकानेर वासियों का गुस्सा उबल रहा है। इस दरिंगदगी के खिलाफ गुस्सा फूटना भी लाजिमी है। पूरा शहर एकजुट है और आरोपियों केा कड़ी सजा दिलवाना चाहते है । इस बीच जिले के नेताओं की चुप्पी शहरभर में चर्चा का विषय बनी हुई है। लोग यह समझ नहीं पा रह है कि आखिर नेताओं की चुप्पी किस कारण है।

वहीं स्थानीय महिला विधायक होने के नाते सिद्धि कुमारी की चुप्पी लोगों की समझ से परे है उन्हे तत्काल इस बारे में आगे आकर पुलिस पर दबाव बनाना चाहिए। विधायक सिद्धि की चुप्पी की खबर जिले भर में चर्चा का विषय बनी हुई है। इसी के साथ सोशल मीडिया में भी सिद्धि की चुप्पी पर लोग निशाना साध रहे है।

 

एक और आरोपी को दबोचा, दो आरोपी 7 दिन की रिमाण्ड पर
पुलिस ने अभी-अभी एक और आरोपी को गिरफ्तार किया है। जानकारी के अनुसार पुलिस ने इस जघन्य अपराध के आरोपी मोहित बिश्नोई को दबोचा है। आपको बता दें कि इस मामले में पुलिस दो आरोपी राजासर भाटियान का सरपंच पति सुमेर सिंह व जालौर जिले का बृजपाल पहले गिरफ्तार कर चुकी है। इन दोनों आरोपितों को आज न्यायालय में पेश किया गया जहां न्यायाधीश ने सात दिन के पुलिस रिमाण्ड पर भेज दिया।

यह है मामला
सदर थाना क्षेत्र की युवती 18 अगस्त को संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गई। परिजनों ने इसकी गुमशुदगी दर्ज कराई। 19 अगस्त को युवती का शव लूणकरनसर के पास नहर में मिला। इसके बाद मृतका के पिता ने सदर थाने में तीन नामजद और तीन-चार अन्य के खिलाफ अपहरण कर बलात्कार और हत्या कर शव नहर में फेंकने का मामला दर्ज कराया।