खुलासा न्यूज़, बीकानेर। युवती के अपहरण और सामूहिक बलात्कार के बाद हत्या कर शव नहर में फेंकने के मामले को कॉल डिटेल अध्ययन के लिए एक टीम का गठन किया गया है। बताया जा रहा है कि कॉल डिटेल से कई राज सामने आएंगे। फिलहाल पुलिस मोबाइल की कॉल डिटेबल खंगाल रही है। सूत्र बताते है कि पुलिस को कई अहम जानकारियां भी मिली है।

आज इस मामले को लेकर सीबीआई के डीआईजी सुरेन्द्र बीकानेर पहुंचे और सर्किट हाऊस में आईजी व एसपी सहित अधिकारियों की बैठक लेकर इस पूरे प्रकरण की जानकारी ली। इसके बाद सीआईडी के डीआईजी सुरेन्द्र अधिकारियों के साथ जहां लड़की का शव मिला, वहां गये और घटनास्थल का निरीक्षण किया और नक्शा मौका व हालात मौके की जानकारी ली। सूत्रों से मिली जानकाकरी के अनुसार लड़की के पहने कपड़े जांच के लिए भिजवा दिए गए है।  आपको बता दें कि इस पूरे प्रकरण में पुलिस अब तक तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर चुकी है।

 

एक और आरोपी को दबोचा, दो आरोपी 7 दिन की रिमाण्ड पर
पुलिस ने अभी-अभी एक और आरोपी को गिरफ्तार किया है। जानकारी के अनुसार पुलिस ने इस जघन्य अपराध के आरोपी मोहित बिश्नोई को दबोचा है। आपको बता दें कि इस मामले में पुलिस दो आरोपी राजासर भाटियान का सरपंच पति सुमेर सिंह व जालौर जिले का बृजपाल पहले गिरफ्तार कर चुकी है। इन दोनों आरोपितों को आज न्यायालय में पेश किया गया जहां न्यायाधीश ने सात दिन के पुलिस रिमाण्ड पर भेज दिया।

यह है मामला
सदर थाना क्षेत्र की युवती 18 अगस्त को संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गई। परिजनों ने इसकी गुमशुदगी दर्ज कराई। 19 अगस्त को युवती का शव लूणकरनसर के पास नहर में मिला। इसके बाद मृतका के पिता ने सदर थाने में तीन नामजद और तीन-चार अन्य के खिलाफ अपहरण कर बलात्कार और हत्या कर शव नहर में फेंकने का मामला दर्ज कराया।