>

खुलासा न्यूज़, बीकानेर। कोरोना अलर्ट के चलते मुख्यमंत्री द्वारा स्कूल-कॉलेज, जिम आदि बंद किये जाने के आदेश के बाद शिक्षा निदेशक के नाम वायरल मैसेज ने आज सुबह हड़कंप मचा दिया था। इस फेक आदेश के मामले को लेकर बीछवाल पुलिस थाने में अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज करवाया गया है।

 यह बोले शिक्षा निदेशक सौरभ स्वामी

इस मैसेज को फेक बताते हुए शिक्षा निदेशक सौरभ स्वामी ने कहा कि परीक्षाएं यथावत होंगी और अधयापकों को भी शिक्षण कार्यों के लिए आना पड़ेगा।

सोशल मीडिया पर हो रहे मैसेज हो वायरल,मचा हडकंप
जिंदगी से महत्वपूर्ण कुछ नहीं
कोई भी स्कूल में शिक्षक,विद्यार्थी को विद्यालय के लिए बाध्य नहीं किया जाएगा।
30 मार्च तक विद्यालय में सभी कार्मिकों और बच्चों का अवकाश रहेगा। कोई संस्था लापरवाही क रती है त्वरित प्रभाव से मान्यता रद्द होगी। किसी की जिंदगी से न खेले कोरोना का कोई इलाज नही है। बचाव ही उपचार है। कोई भी विद्यालय सरकारी,निजी में बोर्ड के अतिरिक्त किसी भी विद्यार्थी क ो प्रवेश न दे सिर्फ परीक्षा केंद्र पर ही प्रवेश होगा। किसी भी निजी विद्यालय कर्मचारी की तनख्वाह काटने पर विद्यालय प्रबंधन से बिना कारण पूछे स्थायी तौर पर मान्यता रद्द की जाएगी। आओ हम लड़े कोरोना से राज्य सरकार के आदेश के विरुद्ध कोई विद्यालय खुला मिले तो त्वरित मुझे सूचित कर क ोरोना के खिलाफ मुहिम में सहयोग दें।
निवेदक
सौरभ स्वामी
शिक्षा निदेशक
दूरभाष-8792768494
नोट- 24 घण्टे आप मुझे सूचना दे सकते हो।