>



बीकानेर। जिले के पूगल थाना क्षेत्र में पिछले माह नहर में कूदकर आत्महत्या करने के मामले में पुलिस ने सूदखोर रवि चावला को हिरासत में लिया है। पूगल सीआई महावीर प्रसाद ने बताया कि 23 सितम्बर को डीडू सिपाही गली निवासी नवरतन (48) पुत्र भंवरलाल सोलंकी अपने दोस्त कैलाश पारीक के साथ कार से खाजूवाला जा रहा था। कार 682 आरडी में इंदिरा गांधी नहर के पास पहुंची तो नवरतन कार रोककर नहर में कूद गया। इस पर कार में बैठे कैलाश ने शोर मचाया तो वहां पर मौजूद ग्रामीण दौड़कर मौके पर पहुंचे और मशक्कत के बाद नवरतन को नहर से बाहर निकाला तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। इस घटना को लेकर मृतक के भाई घनश्याम ने पूगल थाने में आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित करने के आरोप में किशनलाल मोदी व तीन-चार अन्य के खिलाफ मामला दर्ज कराया। घनश्यान ने रिपोर्ट में बताया उसके भाई नवरतन ने कई लोगों से रुपए उधार ले रखे थे,वे उससे 10 से 15 प्रतिशत के हिसाब से ब्याज वसूल रहे थे,ब्याज और रुपए चुकाने में नवरतन की पूरी प्रॉपर्टी बिक गई। हाल ही किशनलाल को छह लाख रुपए दिए थे,लेकिन उसने गिरवी रखे चेक और जेवर नहीं लौटाए। आरोपी उसे जान से मारने की धमकी दे रहे थे, जिससे परेशान होकर उसने आत्महत्या जैसा कदम उठाया है। मृतक ने खुदकुशी से पहले घर पर एक सुसाइड नोट लिखकर छोड़ा था, इसमें पवनपुरी निवासी रवि चावला उर्फ छैनू समेत कर्जदारों से परेशान होकर आत्महत्या करने का जिक्र किया गया है। मुकदमें की जांच पड़ताल में दोषी पाये जाने पर पुलिस ने पवनपुरी निवासी रवि चावला पुत्र रमेश अरोड़ा को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया है।