>


खुलासा न्यूज़, बीकानेर। खाजूवाला कस्बे में छात्रसंघ चुनाव को लेकर एनएसयूआई में दो फाड़ हो गया है। अब खाजूवाला में एनएसयूआई के बगावत के सुर देखने को मिला। गुटबाजी के चलते एनएसयूआई के तीसरे उम्मीदवार का नाम सामने आया है। दरअसल मामला कुछ यूं है कि संगठन के प्रदेशाध्यक्ष अभिमन्यु पूनिया ने खाजूवाला के राजकीय कॉलेज से अंकित चौधरी को उम्मीदवार घोषित कर दिया। जबकि जिलाध्यक्ष रामनिवास कुकणा ने अपनी ढपली अपना राग की तर्ज पर प्रियंका वर्मा को प्रत्याशी घोषित कर दिया। इस तरह से एनएसयूआई की आपसी खींचतान के कारण दो उम्मीदवार घोषित हो गए। खींचतान बढऩे पर लंबी मंत्रणा के बाद संगठन के प्रदेशाध्यक्ष अभिमन्यु पूनिया ने मदनलाल मेघवाल को उम्मीदवार घोषित किया।  एक ही महाविद्यालय से संगठन में गुटबाजी के चलते तीन उम्मीदवार का नाम सामने आने से सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बन गया है। वहीं महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय के अधीन आने वाले जिले के महाविद्यालयों में चुनाव को लेकर गहमागहमी तेज हो गई है।

कूकणा की मनमर्जी नहीं चली
बीकानेर एनएसयूआई जिलाध्यक्ष रामनिवास कूकणा की मनमर्जी नहीं चली। खाजूवाला में एनएसयूआई में गुटबाजी सामने आने के बाद प्रदेशाध्यक्ष अभिमन्यु पूनिया ने काफी मंत्रणा के बाद उम्मीदवार घोषित किया। आपको बता दें कि जिलाध्यक्ष कूकणा द्वारा व्यक्ति विशेष को टिकट देने पर खींचतान बढ़ गई। ऐसे में कुछ छात्र रात्रि को ही जयपुर रवाना हो गए फिर प्रदेशाध्यक्ष अभिमन्यु पूनिया पर दबाव बनाया। दबाव में आने के बाद पूनिया ने दूसरा प्रत्याशी घोषित किया।