>


बीकानेर । जिले में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए राजस्थान प्रशासननिक सेवा के दो अधिकारियों को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। अतिरिक्त निदेशक माध्यमिक शिक्षा रचना भाटिया को कांटेक्ट ट्रेसिंग प्रकोष्ठ प्रभारी तथा जिला महामारी विशेषज्ञ नीलम प्रताप सिंह को प्रकोष्ठ का सहायक प्रभारी नियुक्त किया गया है। वहीं, डोर टू डोर सर्वे के लिए स्थानीय निकाय विभाग के उपनिदेशक कन्हैयालाल सोनगरा को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।
जिला कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट नमित मेहता ने बताया कि इस कार्य में पीबीएम अस्पताल के अधीक्षक, सीएमएचओ, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर और ग्रामीण, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सीआईडी दिशा जोन बीकानेर और मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी नोडल अधिकारी को आवश्यकता अनुसार सहयोग करते हुए प्रकोष्ठ में कार्य के लिए कर्मचारी उपलब्ध करवाएंगे। उन्होंने बताया कि नोडल अधिकारी को यह भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं कि सभी कोविड-19 मरीजों की उचित कांटेक्ट ट्रेसिंग हा, उनका रिकॉर्ड संधारित किया जाए तथा सीएमएचओ को प्रतिदिन सैंपल लिए लें और क्वैरेंटाइन लोगों की सूची उपलब्ध करवाई जाए। मेहता ने कहा कि कोरोना चयन को तोडऩे में इफेक्टिव कांटेक्ट ट्रेसिंग अहम है अत: सभी अधिकारी समन्वय करते हुए पूरी गंभीरता से इस काम को अंजाम देंगे।
डोर टू डोर सर्वे के लिए सोनगरा नोडल अधिकारी नियुक्त
3 दिनों में पूरा होगा सर्वे का काम
जिला मजिस्ट्रेट मेहता ने एक आदेश जारी कर कोविड रोकथाम के लिए डोर टू डोर सर्वे कराने के काम के लिए स्थानीय निकाय विभाग के उपनिदेशक कन्हैया लाल सोनगरा को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है। आदेशानुसार इस कार्य के लिए अधीक्षक पीबीएम अस्पताल , सीएमएचओ अपने स्तर पर टीम गठित कर अगले 3 दिनों में सर्वे का काम पूरा करवाते हुए रोजाना इस कार्य की प्रगति रिपोर्ट भेजेंगे।