>



बीकानेर। हमारा शहर व शहरवासी हमेशा से सबकी सहायता मे आगे रहे हैं। इसी परंपरा को निभाते व पौराणिक मान्यताओं का खंडन करते तथा देहदान की उपयोगिता समझते हुए कई परिवार आगे रहे हैं। जिसके कारण ही एक माह में तीन जनों ने देहदान किया। इसी क्रम में शनिवार को सर्व मानव कल्याण समिति के सदस्य गंगा देवी पत्नी शंकर सिंह की इच्छा अनुसार उनका देहदान उनके परिवार द्वारा मेडिकल कॉलेज में किया गया। इस अवसर पर डॉ. राकेश रावत,पन्नालाल सकरवाल,रमेश सोनी,प्रवीण चावला,जावेद इत्यादि उपस्थित रहे। कुछ दिनों पूर्व ही नरेंद्र राजपुरोहित तथा महोबिया जी द्वारा भी देहदान किया गया था। समिति के डॉ राकेश रावत ने कहा कि देहदान से अच्छे चिकित्सकों के निर्माण में सहयोग मिलेगा तथा अंगदान लाखों लोगों की आवश्यकता है और यदि हम कुछ सहयोग कर पाते हैं तो ये ऋषि दाधीच के द्वारा शुरू किया गया अदभुत यज्ञ निरंतर जनकल्याण में अग्रसर होता रहेगा। आइए हम सब मिलकर मानव कल्याण हेतु इस तरह के कार्यक्रम में शामिल होकर अपना जीवन सार्थक करें। आपको बता दे कि गंगादेवी जी बीकानेर के प्रख्यात लेखक अनिरूद्व उमट की सास है। जिनकी प्रेरणा से ही उन्होंने देहदान का संकल्प लिया था।