>


ब्लॉक की टीम बीकानेर बुलाने के निर्देश
बीकानेर। जिला कलक्टर नमित मेहता की अध्यक्षा में कलेक्ट्रेट सभागार में शनिवार को हुई बैठक कोविड-19 वायरस से संक्रमित हुए लोगों और शहर में कफ्र्य प्रभावित क्षेत्र में आवश्यक सुविधाओं की उपलब्धता की समीक्षा की गई। जिला कलक्टर मेहता ने पीबीएम अधीक्षक डॉ. मोहम्मद सलीम और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिए कि कोविड को लेकर शहर को 16 जोन में बांटा हुआ है। आगामी एक सप्ताह में करीब 10 हजार सैम्पल लेकर जांच की जाए। अत: इन जोन में डोर-टू-डोर सर्वे करते हुए जांच के पुख्ता बंदोबस्त हो। उन्होंने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिए कि जांच ज्यादा हो, इसके लिए ब्लॉक में लगी टीमों को कुछ समय के लिए बीकानेर बुलाए। उन्होंने कहा कि बैंक और सरकारी कार्यालयों में पॉजिटिव रोगी मिल रहे हैं, अत: बैंक कार्मिक, व्यापारी आदि का रेण्डमली सैम्पल लेकर, जांच करवाई जाए। उन्होंने कहा कि जो मोबाइल टीम बनाई गई है, वे प्रभावी ढंग से कार्य करे। उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति पॉजिटिव मिला है, उसके सम्पर्क में आए हुए लोगों की ये टीम तुरन्त पता कर, उनके सैम्पल ले ताकि संक्रमण आगे ना फैले। उन्होंने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को कोविड पॉजिटिव रोगियों की रिपोर्ट में महिला, पुरूष व बच्चों के आंकडे अलग-अलग दर्शाने के निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने सभी ब्लॉक में कोविड-19 को लेकर नियुक्त नोडल अधिकारियों से ग्रामीण क्षेत्र में कोविड केयर सेन्टर और रोगियों के उपचार के बारे में फीड बैक लिया। बैठक में एडीएम सिटी सुनीता चैधरी, यूआईटी सचिव मेघराज सिंह मीना, जिला रसद अधिकारी यशवंत भाकर, अधीक्षक पीबीएम डॉ.मोहम्मद सलीम, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.बी.एल.मीना सहित ब्लॉक नोडल अधिकारी उपस्थित थे।