खुलासा न्यूज, बीकानेर। जिला कलक्टर कुमारपाल गौतम ने कहा कि गणतंत्र दिवस राष्ट्रीय पर्व है, इसे पूर्ण गरिमा और उत्साह से मनाया जाए। संपूर्ण जिले में पर्व का सा माहौल लगे, इसके लिए सभी प्रमुख स्थानों पर रंगीन रोशनी की जाएगी तथा पूर्व संध्या पर रविंद्र रंगमंच पर देशभक्ति से ओतप्रोत सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। मुख्य समारोह राजकीय डॉ. करणीसिंह स्टेडियम में प्रात: 9.00 बजे मुख्य अतिथि द्वारा ध्वजारोहण के साथ प्रारंभ होगा ।
गौतम सोमवार को कलक्टर सभागार में गणतंत्र दिवस समारोह की तैयारी बैठक में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि सभी विभाग निर्धारित समय पर सभी तैयारियां सुनिश्चित करें। सभी राजकीय कार्यालयों में प्रात: 7 से 8 बजे तक, जिला कलक्टर निवास पर प्रात: 7:30 बजे तथा कलक्ट्रेट में 8 बजे ध्वजारोहण होगा।
उन्होंने बताया कि करणी सिंह स्टेडियम में परेड निरीक्षण तथा मार्च पास्ट की सलामी होगी। मार्च पास्ट में पुलिस, बॉर्डर एवं अरबन होमगार्ड, तीसरी एवं दसवीं आरएसी बटालियन, एनसीसी छात्र-छात्राएं, स्काउट, गाइड, सोफिया एवं बीबीएस स्कूल की टुकडिय़ां भाग लेंगी। राज्यपाल के संदेश का पठन अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) द्वारा किया जाएगा।
गौतम ने बताया कि समारोह के दौरान विद्यार्थियों द्वारा सामूहिक लोक नृत्य, भारतीयम, व्यायाम एवं योग प्रदर्शन किए जाएंगे। मुख्य समारोह के दौरान विभिन्न विभागों द्वारा झांकियों का प्रदर्शन किया जाएगा, सभी विभाग संबंधित फ्लैगशिप योजनाओं को झांकियों में प्रदर्शित करेंगे। उन्होंने बताया कि साक्षरता एवं सतत शिक्षा, सर्व शिक्षा अभियान, वन विभाग, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता, नगर निगम, जिला उद्योग केन्द्र, नगर विकास न्यास, पीएचइडी, जिला परिषद एवं कृषि विभाग के अलावा परिवहन विभाग एवं ट्रैफिक पुलिस द्वारा भी झांकी निकाली जाएगी। उन्होंने सभी विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए कि झांकियों की विषयवस्तु की जानकारी 23 जनवरी तक आवश्यक रूप से उपलब्ध करवा दी जाए।
15 जनवरी से पहले रोशनी एवं सफाई की हो पुख्ता व्यवस्था-
जिला कलक्टर ने कहा कि डॉ.करणी सिंह स्टेडियम में सफाई और रोशनी की पुख्ता व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने नगर निगम आयुक्त और नगर विकास न्यास सचिव को 15 जनवरी तक स्टेडियम की बेहतर तरीके से सफाई करवाकर स्टेडियम को आकर्षक बनाने के निर्देश दिए।
गणतंत्र दिवस में पहली बार
गौतम ने बताया कि गणतंत्र दिवस पर होने वाली परेड में पहली बार राष्ट्रीय उष्ट्र अनुसंधान केन्द्र और राष्ट्रीय अश्व अनुसंधान केन्द्र के नौ-नौ ऊंट और अश्व शामिल किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि सामूहिक व्यायाम में शामिल होने वाले बच्चे केसरिया, सफेद और हरे रंग (राष्ट्रीय ध्वज) की टोपियां (कैप्स) पहनकर इस तरह पंक्तिबद्ध होकर प्रदर्शन करेंगे कि सामूहिक व्यायाम के दौरान उनकी कैप्स तिरंगे को दर्शाएंगी। गौतम ने बताया कि इसी प्रकार पहली बार लोक सेवाएं विभाग द्वारा भी झांकी निकाली जाएगी, जिसमें संपर्क पोर्टल पर दर्ज प्रकरणों, लोक सेवा गारन्टी तथा जनसुनवाई के अधिकार को प्रमुखता से दर्शाया जाएगा। उन्होंने जिले के एकमात्र नवोदय विद्यालय के बच्चों की प्रस्तुति भी मुख्य समारोह में करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने सामूहिक नृत्य की प्रस्तुति को व्यवस्थित एवं अधिक रोचक बनाने के निर्देश भी दिए।
सांस्कृतिक संध्या का होगा आयोजन
गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर रविंद्र रंगमंच पर सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया जाएगा। जिला कलक्टर ने कहा कि सांस्कृतिक कार्यक्रम में देशभक्ति से ओतप्रोत कार्यक्रमों का ही आयोजन किया जाए। उन्होंने इसके लिए 6 सदस्य एक कमेटी का गठन किया है। सांस्कृतिक संध्या के संपूर्ण संयोजन का कार्य करने के लिए अतिरिक्त जिला कलक्टर नगर को प्रभारी तथा उपनिदेशक जनसंपर्क विकास हर्ष को संयोजक नियुक्त किया गया है । समिति में सचिव नगर विकास न्यास,जिला शिक्षा अधिकारी (माध्यमिक व प्रारंभिक) तथा सहायक निदेशक पर्यटन को शामिल किया गया है। समिति सदस्य गंणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर होने सांस्कृतिक कार्यक्रम का अभ्यास 23 जनवरी को रविंद्र रंगमंच पर देखेंगे तथा कार्यक्रमों का चयन करेंगे।
पुरस्कार और प्रशंसा पत्र के लिए 20 तक होंगे आवेदन
गणतंत्र दिवस के मुख्य समारोह में उल्लेखनीय सेवाएं साहित्यकारों,विभिन्न राष्ट्रीय व राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में विशेष उपलब्धि अर्जित करने वाले मेधावी छात्र-छात्राओं, खिलाडिय़ों, समाजसेवी संस्थाओं, दानदाताओं, भामाशाह एवं सामाजिक क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाले व्यक्तियों को सम्मानित किया जाएगा। इनके साथ ही राज्य कार्मिकों एवं अधिकारियों के लिए भी उल्लेखनीय, विशेष कार्य करने वालों का भी सम्मान किया जाएगा।
जिला कलक्टर ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि 20 जनवरी तक आवेदन प्रस्तुत करते समय यह सुनिश्चित कर लें कि जिस कार्मिक का नाम सम्मानित करने के लिए नामांकित कर रहे हैं,उसके विरुद्ध किसी तरह की विभागीय जांच नहीं चल रही है।
पूर्वाभ्यास और मुख्य समारोह में पेयजल की पुख्ता हो व्यवस्था-
जिला कलेक्टर ने कहा की मुख्य समारोह में छात्र-छात्राओं द्वारा किए जाने वाले व्यायाम प्रदर्शन सहित अन्य कार्यक्रमों के लिए पूर्वाभ्यास किया जाएगा। पूर्वाभ्यास के दौरान छात्रा-छात्राओं तथा मार्च पास्ट में शामिल पुलिस कार्मिकों आदि के लिए पेयजल की समुचित व्यवस्था होनी चाहिए। इसी तरह गणतंत्र दिवस के दिन छात्र-छात्राओं के लिए मुख्य मंच के सामने जहां छात्र-छात्राएं व झांकियां खड़ी होगी,वहां भी पेयजल की माकूल व्यवस्था होनी चाहिए। डॉ. करणी सिंह स्टेडियम में साफ सफाई पर नगर निगम द्वारा विशेष ध्यान रखा जाए । निगम के अधिकारी गणतंत्र दिवस तक नियमित रूप से भ्रमण कर साफ-सफाई की व्यवस्था का जायजा लेंगे।