>


जयपुर: कोरोना संकट के चलते राज्य के लगभग तीन सौ कॉलेजों में पढ़ाई अगस्त महीने के आखिर से ही शुरू हो पाएगी। ये पढ़ाई भी इस बार बिल्कुल अलग होगी। कोरोना के चलते कॉलेज में कक्षाएं अब पहले की तरह नहीं लगेंगी बल्कि इन्हें ऑनलाइन लगाने की तैयारी की जा रही है ताकि कोरोना संकट का असर पढ़ाई पर नहीं पड़े और विद्यार्थियों का कोर्स भी समय से पूरा हो सके। कॉलेज शिक्षा निदेशालय ने इसके लिए गाइडलाइन जारी कर दी हैं। वहीं सरकारी कॉलेजों में पिछले महीने से ही शिक्षकों ने विद्यार्थियों की पढ़ाई के लिए ई—कंटेंट तैयार करना भी शुरू कर दिया गया था। वहीं उच्च शिक्षामंत्री भंवर सिंह भाटी ने भी हाल ही में उच्च शिक्षा विभाग के आला अफसरों की बैठक में ऑनलाइन पढ़ाई के लिए जरूरी संसाधन उपलब्ध करवाने के आदेश दिए हैं। दरअसल,सरकारी कॉलेजों में स्नातक प्रथम वर्ष के लिए दाखिले ऑनलाइन होंगे। इसके लिए आवेदन करने की प्रक्रिया 28 जुलाई से शुरू होगी। 11 अगस्त तक आवेदन किए जा सकेंगे। प्रवेश कार्यक्रम के मुताबिक कॉलेजों में 29 अगस्त से ऑनलाइन शिक्षण कार्य शुरू हो जाएगा। खाली रही सीटों पर श्रेणीवार 26 अगस्त से फिर से ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया होगी, जिसके तहत 1 सितंबर तक आवेदन किए जा सकेंगे। खास बात यह है कि कोरोना संकट को देखते हुए प्रवेश लेने वाले अभ्यर्थियों के मूल प्रमाण पत्रों की जांच स्थिति सामान्य होने पर ही की जाएगी।