>


जयपुर। प्रदेश में बदलते राजनीतिक घटनाक्रम के बीच अब नये मंत्रिमंडल की कवायद शुरू हो गई है। ऐसा माना जा रहा है कि 15 या 16 जुलाई को नये मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई जाएगी। राजनीतिक सलाहाकरों की माने तो दो उपमुख्यमंत्री व 9 मंत्री बनायें जा सकते है। इसमें रामकेश मीणा,राजेन्द्र गुढा,इन्द्रा रावत,जोगेन्द्र सिंह अवाना,खिलाड़ बैरवा,नरेन्द्र बुढ़ानिया,राजकुमार शर्मा के मंत्रीमंडल में शामिल होने की संभावना है। जबकि उप मुख्यमंत्री पद पर एक ब्राह्मण और एक दलित को जगह मिल सकती है। वहीं सरकार में भी रिक्त हुए पदों के अलावा नये समीकरण बनने की पूरी संभावनायें हैं। कांग्रेस ने सरकार को बचाने के लिए निर्दलीय विधायकों का भी सहारा लिया है। लिहाजा उनमें से भी विधायक सरकार में भागीदारी की उम्मीद लगाए बैठे हैं। इनमें से कितनों की उम्मीदें पूरी हो पायेंगी यह कह पाना अभी कठिन है।इसके अलावा करीब 10 संसदीय सचिव बनाये जा सकते है। जिसमें युवाओं का को तरजीह दी जा सकती है।
इनको मिली नई जिम्मेदारी
आपको बता दे कि सचिन पायलट के प्रदेशाध्यक्ष हटाए जाने के बाद गोविन्द सिंह डोटसरा को नया प्रदेशाध्यक्ष बनाया गया है। इसके अलावा गणेश घोघेरा यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष,अभिषेक चौधरी को एनएसयूआई को प्रदेशाध्यक्ष तथा हेमसिंह शेखावत को सेवादल का प्रदेश संगठक नियुक्त किया गया है।