Click Here To Open Your Demat Account Now!

नई दिल्ली। कोरोना वायरस महामारी के कारण मार्च में लगे लॉकडाउन के बाद से देशभर में लंबे समय से स्कूल बंद हैं। कुछ राज्यों में अनलॉक 4 के तहत 21 सितंबर से आंशिक रूप से 9वीं से 12वीं कक्षा तक के लिए क्लासेस शुरू किए गए थे। अब अनलॉक 5 के तहत केंद्र सरकार देशभर में 15 अक्टूबर से चरणबद्ध तरीके से स्कूल खोने जाने की अनुमति दे चुकी है।
इस संबंध में गृह मंत्रालय और शिक्षा मंत्रालय द्वारा दिशानिर्देश भी जारी किए जा चुके हैं। हालांकि स्कूल खोलने हैं या नहीं, कब से और किस तरह खोलने हैं.. इस पर अंतिम फैसला राज्यों को खुद ही लेना है।
पंजाब :पंजाब सरकार ने 15 अक्टूबर से ही स्कूल खोलने का फैसला किया है। नए दिशानिर्देश भी जारी कर दिए हैं। इसके अनुसार राज्य में क्लास 9 से 12वीं तक के रेगुलर क्लासेस शुरू किए जाएंगे। लेकिन एक सेक्शन में एक समय पर 20 से ज्यादा स्टूडेंट्स को पढ़ाने की अनुमति नहीं होगी।
महाराष्ट्र :महाराष्ट्र सरकार ने कहा है कि वह दिवाली के बाद राज्य में कोविड-19 के हालात की समीक्षा करेगी। उसके बाद ही इस संबंध में कोई फैसला लिया जाएगा। तब तक राज्य में सभी स्कूल बंद रहेंगे।
उत्तर प्रदेश :उत्तर प्रदेश सरकार ने क्लास 9 से 12वीं तक के लिए सोमवार, 19 अक्टूबर से स्कूल खोले जाने की घोषणा की है। लेकिन सिर्फ वही स्कूल खोले जाएंगे जो कंटेनमेंट जोन से बाहर होंगे।
आंध्र प्रदेश :आंध्र प्रदेश में राज्य सरकार ने 2 नवंबर तक स्कूल बंद रखने का निर्णय किया है।
गुजरात :गुजरात सरकार ने भी दिवाली के बाद स्कूल खोले जाने को लेकर कोई निर्णय लेने की बात कही है। तब तक यहां स्कूल बंद रहेंगे।
छत्तीसगढ़ : राज्य सरकार ने कहा है कि कोविड-19 के मद्देनजर अगले आदेश तक स्कूल बंद रहेंगे।
कर्नाटक: कर्नाटक सरकार ने कहा है कि उन्हें स्कूल खोलने की कोई जल्दबाजी नहीं है। सभी पहलुओं का जायजा लेने के बाद ही इस संबंध में कोई फैसला लिया जाएगा।
पश्चिम बंगाल :यहां मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि 15 नवंबर के बाद ही राज्य में स्कूल खोले जाने को लेकर सरकार कोई फैसला करेगी।
हरियाणा :राज्य के शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने कहा है कि अगर सबकुछ योजना के अनुसार रहा तो कक्षा 6 से 9वीं तक के स्टूडेंट्स 15 अक्टूबर से अपने शिक्षकों से विषयों के संबंध में मार्गदर्शन लेने के लिए स्कूल विजिट कर सकते हैं। लेकिन नियमित कक्षाएं बंद रहेंगी। 9वीं से 12वीं तक के लिए 21 सितंबर से ही राज्य में इसकी अनुमति दे दी गई थी।
उत्तराखंड :राज्य में 01 नवंबर से कक्षा 10वीं और 12वीं के लिए स्कूल खोले जा रहे हैं। फिर राज्य सरकार इस फैसले के प्रभावों की समीक्षा करने और उससे संतुष्ट होने के बाद अन्य कक्षाओं के लिए स्कूल खोलने के बारे में फैसला लेगी। इस संबंध में राज्य मंत्रिमंडल शिक्षा विभाग का प्रस्ताव मंजूर कर चुका है।
तमिलनाडु : राज्य के शिक्षा मंत्री केए सेंगोतैयां ने कहा है कि फिलहाल स्कूल नहीं खोले जा रहे हैं। शिक्षा विभाग, राजस्व व स्वास्थ्य विभाग इस संबंध में मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी के पास अपनी रिपोर्ट सौंप चुके हैं। अब वह इस बारे में फैसला करेंगे।
मेघालय: मेघालय सरकार 15 अक्टूबर से स्कूल खोलने की अनुमति दे चुकी है। लेकिन अगले आदेश तक किसी भी शैक्षणिक संस्थान में फिलहाल नियमित कक्षाओं का संचालन करने की अनुमति नहीं दी गई है।
पुडुचेरी :यहां 8 अक्टूबर से ही कक्षा 9वीं से 12वीं तक के लिए स्कूल खोले जा चुके हैं। स्थानीय सरकार के निर्देशानुसार, 9वीं और 11वीं की कक्षाएं सोमवार, बुधवार और शुक्रवार को चलेंगी। जबकि 10वीं व 12वीं की कक्षाएं मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को संचालित होंगी। उपस्थिति अनिवार्य नहीं होगी। ये क्लासेस सिर्फ डाउट्स क्लीयर करने और गाइडेंट के लिए होंगी।