>



बीकानेर। राजस्थान शिक्षक संष राष्ट्रीय का एक दिवसीय जिला महासमिति अधिवेशन शनिवार को शुभम गार्डन में मुख्य अतिथि शिक्षा विभाग के पूर्व सहायक उपनिदेशक चन्द्रशेखर हर्ष तथा प्रदेशमंत्री रवि आचार्य की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। सम्मेलन को सम्बोध्ेिात करते हुए शिक्षा विभाग के पूर्व सहायक निदेशक चन्द्रशेखर हर्ष ने कहा कि राष्ट्र जीवन का आधार छात्र को लेकर शिक्षक चले तो देश के आधार स्तंभ को डिगाने की कोई ताकत नहीं रख सकता। उन्होंने कहा कि शिक्षा का अर्थ मनुष्य को अपने जीवन के इस अन्तिम लक्ष्य की और उन्मुख करना, तैयार करना होना चाहिए इसलिए इस अन्तिम लक्ष्य की प्राप्ति के लिए आवश्यक है कि शिक्षक सदगुणी होने के कारण संस्कारित समाज की संरचना में अपना बहुमुल्य योगदान दे।
अध्यक्षता करते हुए संगठन प्रदेश मंत्री रवि आचार्य ने शिक्षकों से अपने पद के अनुरूप दायित्व निर्वहन करने का आव्हान करते हुए कहा कि शिक्षक अपने अधिकारों के साथ साथ अपने कर्तव्यो के प्रति भी जागरूक रहे तभी शिक्षकों का सम्मान बना रह सकेगा। वही शिक्षक का दायित्व है कि वह शिक्षा के ज्ञान को प्राप्त करने में बालक के सामने आ रही बाधाओ को दूर करे।
प्रदेश संयुक्त मंत्री सुरेश व्यास ने कहा कि सरकार शिक्षकों की न्यायोचित मांगो पर ढुलमुल रवैया अपना रही है। उन्होंने कहा कि शारीरिक शिक्षकों एवं पुस्तकालयध्यक्षों को इतने वर्षो बाद भी पदोन्नति नहीं मिल रही हैं। स्टाफि ंग पेटर्न की समीक्षा करने के अभाव के चलते विद्यालयों में आवश्यकतानुसार शिक्षकों की कमी बनी हुयी है।
जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश विश्नोई ने कहा कि आज भी जिले में शिक्षकों की समस्याओं का अम्बार पड़ा है जिसके निस्तारण को लेकर जिले के अधिकारियो मे गभ्भीरता का अभाव बना हुआ है इसलिए संगठन स्तर पर सघंर्ष कर समस्या का समाधान करवाने का प्रयास किया जायेगा।
जिलामंत्री कैलाशदान ने कहा कि शिक्षकों को समय पर वेतन देने की पुख्ता व्यवस्था हो समय पर वेतन न देने वाले कार्मिको के खिलाफ कार्यवाही होनी चाहिए वही वेतन की एक समान व्यवस्था कोषालय से भुगतान करवाने की होनी चाहिए। इस मौके पर मंडल सयुक्त मंत्री ओमप्रकाश विश्नोई, जिला संगठन मंत्री लेखराम गोदारा,महिला जिला मंत्री श्रीमती चन्द्रकला आचार्य,मोहनलाल भादू, नरेन्द्र आचार्य,श्रीराम खिलेरी,हीरालाल भुुवाल,श्रीमती चन्द्रकला आचार्य,दयाशंकर शर्मा, अनिल सोनी, पवन कुमार,रामेश्वरलाल,हडमान राम,मगनसिंह सोढा,सग्रामसिंह आदि शिक्षक नेताओ ने भी सम्बोधित किया।
विश्नोई अध्यक्ष,कैलाशदान मंत्री,गुरिया सभाध्यक्ष निर्विरोध निर्वाचित
जिला निर्वाचन अधिकारी सुरेश व्यास एवं प्रदेश मंत्री व पर्यवेक्षक रवि आचार्य की देखरेख में बीकानेर जिला कार्यकारिणी के चुनाव सम्पन्न हुए। जिला निर्वाचन अधिकारी सुरेश व्यास ने बताया कि बीकानेर जिला संगठन चुनाव में नोखा के ओमप्रकाश विश्नोई लगातार 5 वी बार जिलाध्यक्ष तथा सीथंल के कैलाशदान लगातार 4थी वार जिलामंत्री तथा लूणकरणसर के रेवन्तराम गुरिया सभाध्यक्ष निर्विरोघ निर्वाचित घोषित किये गये है।व्यास ने जानकारी दी कि कार्यकारिणी चुनावो में वरिष्ठ उपाध्यक्ष पद पर पॉचू के मोहनलाल भादू,श्रीडॅूगरगढ के अनिल सोनी एवं नोखा के दानाराम भादू,लूणकरणसर के हीरालाल भुवाल,बीकानेर के विनोद पुनिया उपाध्यक्ष,सचिव श्रीडॅूगरगढ के पवन कुमार शर्मा तथा बीकानेर के पंकज भाटी सचिव चुने गये है तथा कोषाध्यक्षपदपर बीकानेर के त्रिपुरारी चतुर्वेदी भी निर्विरोध निर्वाचित हुए है। इनके अलावा अध्यापक पद पर रामधन चौधरी,महिला शिक्षिका मधु,शारीरिक शिक्षक जगदीश मंण्डा,सेवानिवृत प्रतिनिधि माणकलाल सेवग,प्रबोधक महीराम ज्याणी तथा प्रयोगशाला सहायक सुरेन्द्र कुमार सहित 5 कार्यकारिणी सदस्यो का भी निर्विरोध निर्वाचन सम्पन्न हुआ है।