खुलासा न्यूज,बीकानेर। राज्य सरकार की ओर से शादी समारोह में केन्द्र सरकार की भांति छूट नहीं देने के विरोध में जिले के टैंट व्यवसायियों ने कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन कर रोष जताया। राजस्थान टैट डीलर्स कि राया व्यवसायी समिति जयपुर के प्रदेश व्यापी आह्वान पर दो दिवसीय आन्दोलन के पहले दिन जिले के टैंट व्यवसायी सांकेतिक हड़ताल पर रहे। एसोसिएशन के सदस्यों ने विश्नोई धर्मशाला से रैली के रूप में कलक्ट्रेट पहुंचे और प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री के नाम कलक्टर को ज्ञापन सौंपा। इस प्रदर्शन में बैंड एसोसिएशन,लाईट-साउण्ड एसोसिएशन,बैंड-घोड़ी लवाजमा एसोसिएशन के सदस्य शामिल रहे। जिलाध्यक्ष पूनमचंद कच्छावा ने रोष जताया कि कोविड 19 के कारण भारत सरकार ने शादी समारोह पर 50 व्यक्तियों से बढ़ाकर केवल 100 व्यक्तियों के शामिल होने की छूट 21 सितम्बर से दी जा रही है। परन्तु मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राजस्थान में 50 व्यक्तियों से अधिक शामिल होने पर रोक लगा दी है। यह हमारे साथ नाइन्साफी है जो कि हमें बिल्कुल भी मंज़ूर नहीं है। हमारी माँग है कि शादी समारोह में कम से कम 300-400 व्यक्तियों के शामिल होने की अनुमति भारत सरकार देवें। कच्छावा ने बताया कि टैट व्यवसायी व इवेनट,फूल,लाइट,जनरेटर,लवाजमा,बैंड,फोटोग्राफर ,केटरिंग,हलवाई ,विवाह स्थल डीजे साउंड आदि से संबंधित कामगारों का रोजगार प्रभावित हो रहा है। गांवों कस्बों में इन सभी पर रोजी रोटी पर संकट आन खड़ा हुआ है। कच्छावा ने बताया कि 4 सितम्बर को सायंकाल 6 बजे मशाल जूलुस निकाल कर सरकार का ध्यान केन्द्रित किया जाएगा।