>


– भव्या सारस्वत को एसएचओ की सीट पर बिठाया
– पुलिसकर्मियों को राखी बांधने पहुंची सीमाजन कल्याण समिति खाजूवाला की बहिनें
खुलासा न्यूज़, बीकानेर। जिले में आज रक्षाबंधन पर ऐसा कुछ हुआ, जिसके बारे में जानकर हर बहन भावुक हो उठेगी और हर भाई उत्साहित। खाजूवाला थानाधिकारी रमेश सर्वटा ने बड़प्पन दिखाकर दो ऐसी मिसाल पेश की । थानाधिकारी सर्वटा आज शहीद ओमप्रकाश विश्नोई के घर पहुंचे। अचानक पुलिस टीम को देखकर एक बार सभी चौंक गए, लेकिन सर्वटा ने मिठाईयां देते हुए जब रक्षा बंधन की बधाईयां दी तो एक भावुक माहौल बन पड़ा।

देश के लिए कुर्बान होने वाले बेटे के माता-पिता के पांव छुए तो आशीर्वाद मिला। तो वहीं शहीद की पत्नी निर्मला देवी के आगे अपनी कलाई करते हुए रक्षा सूत्र बांधने का आग्रह वीरांगना को भावुक कर गया। सर्वटा ने वीरांगना व उसकी पुत्री सरोज से राखी बंधवाई व रक्षा का वचन दिया। तो थाने में राखी बांधने पहुंची स्थानीय बेटियों में एक छोटी बच्ची भव्या सारस्वत की जिद्द पूरी कर एक मिसाल पेश की। भव्या ने रक्षा सूत्र बांधा तो जिद्द कर बैठी कि उसे थानाधिकारी की कुर्सी पर बैठना है। छोटी बहन की जिद्द पर सर्वटा ने उसे अपनी कुर्सी पर बिठाया और अपनी कैप पहनाई। इस भाई का बहन के प्रति प्रेम यहीं नहीं रुका, इसके दोनों थानाधिकारी रमेश सर्वटा व अन्य स्टाफ ने भव्या को सैल्यूट भी किया।