>


नोख। बीकानेर के नोखा में बारिश रिहायशी इलाकों में मुसीबत बनकर आई है। यहां हुई तेज बारिश से जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया। पानी घरों, कार्यालयों व स्कूल्स में घुस गया। भारी वर्षा की वजह से गांव हिम्मतसर में 65 साल पुराने राजकीय उच्च माध्यमिक (कन्या) विद्यालय के कैम्पस एवं क्लास रूम में पानी भर जाने से बालिकाओं को परेशानी का सामना करना पड़ा।
नोखा में बीती रात को शुरू हुई बारिश दोपहर तक रुक-रुक कर जारी रही। भारी वर्षा की वजह से गांव हिमट्सर में राजकीय उच्च माध्यमिक (कन्या) विद्यालय के कैम्पस एवं क्लास रूम में करीब दो फीट तक पानी भर गया। इससे जाने की वजह से बालिकाओं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। छात्राओं को आने-जाने में बहुत ज्यादा परेशानी हो रही है। साल 1953 में बने इस स्कूल की बिल्डिंग भी जर्जर अवस्था में है। इसके गिरने की भी आशंका है। ब्लॉक कांग्रेस कमेटी देहात अध्यक्ष मेघसिंह हिमट्सर ने इस बारे में तहसीलदार नोखा को अवगत करवाया है।
स्कूल में की छुट्टी
स्कूल में दो फीट तक पानी जमा हो जाने माध्यमिक शिक्षा निदेशालय ने शनिवार को स्कूल में छुट्टी कर दी। स्कूल पहुंचने पर छात्राओं को छुट्टी की सूचना मिली। स्कूल दो पारियों में लगता है। पहली पारी में बच्चियों को आते ही घर रवाना कर दिया गया।