Click Here To Open Your Demat Account Now!

क्या आपने ऑनलाइन रेप के बारे में सुना है? क्या ऐसी कोई घटना हो सकती है? शायद आपको ऑनलाइन या वर्चुअल रेप की घटना जानकर अजीब लगे, लेकिन ऐसी घटनाएं अब तेजी से हो रही हैं. इंटरनेट की दुनिया में कई देशों में ऑनलाइन रेप के मामले सामने आए हैं.

इन घटनाओं में कई बार लड़का भी पीड़ित होता है क्योंकि ऐसा भी हो सकता है कि कोई लड़की ऑनलाइन रेप का आरोप लगा ब्लैकमेल करने लगे. दिल्ली से सटे नोएडा में ऑनलाइन रेप की ऐसी ही सनसनीखेज घटना सामने आई है, जिसमें एक नामी फाइनेंस कंपनी के एग्जिक्यूटिव पर ऑनलाइन रेप का आरोप लगा है.

अब एग्जिक्यूटिव को लगातार ब्लैकमेल भी किया जा रहा है. ब्लैकमेलिंग के जरिए अब तक 5 हजार रुपये की साइबर फिरौती ली जा चुकी है. अभी और भी लगातार डिमांड की जा रही है.

नोएडा में ऑनलाइन रेप की ऐसी ही सनसनीखेज घटना सामने आई है. जिसमें एक नामी फाइनेंस कंपनी के एग्जिक्यूटिव पर ऑनलाइन रेप का आरोप है. एग्जिक्यूटिव को लगातार ब्लैकमेल भी किया जा रहा है. साइबर क्राइम के शिकार युवक नोएडा के सेक्टर-37 में रहते हैं. वह एक नामी फाइनेंस कंपनी में एग्जिक्यूटिव हैं.उन्होंने कई महीने पहले Woo Online Dating App पर रजिस्ट्रेशन कराया था. पिछले दिनों अचानक एक लड़की ने डेटिंग ऐप पर इन्हें फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी. इसके बाद दोनों में दोस्ती हो गई और फिर वीडियो चैट करने लगी. वीडियो चैट के दौरान ही एग्जिक्यूटिव से बातों-बातों में अश्लील वीडियो बनवा ली. कुछ दिन बाद ही एक मोबाइल नंबर से कॉल करके एग्जिक्यूटिव को ब्लैकमेल किया जाने लगा.

 

साइबर सेल ने शुरू की जांच

ब्लैकमेलिंग के जरिए अब तक 5 हजार रुपये की साइबर फिरौती ली जा चुकी है. अभी और भी लगातार डिमांड की जा रही है. ऐसा नहीं करने पर एग्जिक्यूटिव की पर्सनल लाइव वीडियो को सोशल मीडिया पर डालकर बदनाम करने की धमकी मिल रही है. इस मामले में नोएडा के सेक्टर-39 थाने में आईटी एक्ट की धाराओं में एफआईआर दर्ज की गई है. पुलिस साइबर सेल की मदद से जांच कर रही है.

दरअसल, वीडियो चैट के दौरान या ऑनलाइन माध्यम से किसी लड़की या बच्चे को अश्लील इशारे करना या फिर ब्लैकमेल करते हुए जबरन अश्लील हरकत करवाना, एक तरह से ऑनलाइन रेप की श्रेणी में आता है. इसे लेकर दुनिया के कई देशों में ऐसे मामले सामने आ रहे हैं.

हालांकि, इंडिया में ऑनलाइन रेप की बात पहली बार सामने आई है. वर्चुअल हैरसमेंट और अश्लील हरकत के मामले आए हैं, लेकिन ऑनलाइन रेप का किसी भी थाने में दर्ज एफएआईआर में पहली बार जिक्र किया गया है.