>


इस बार रक्षाबंधन 15 अगस्त को मनाई जाएगी। खास बात ये है कि बहनें दिनभर भाइयों को राखी बांध सकेंगी। ज्योतिषियों के मुताबिक, यह रक्षाबंधन भद्रा दोष से मुक्त है। इसलिए 15 को सूर्य अस्त होने से पहले तक राखी बांधी जा सकेगी।
विज्ञापन

इस बार बहनों को राखी बांधने के लिए मुहूर्त का इंतजार नहीं करना पड़ेगा। पंडित प्रकाश पारीक के मुताबिक, भद्रा के समय कोई भी शुभ कार्य करना वर्जित माना गया है। इसलिए भद्रा काल में राखी नहीं बांधी जाती है।

लेकिन इस बार बहनें सूर्य अस्त होने तक किसी भी समय राखी बांध सकती हैं। भद्राकाल न होने से पूरे दिन मुहूर्त रहेगा। 14 अगस्त को अपराह्न 3:45 बजे पूर्णिमा लगा जाएगी, जोकि 15 अगस्त को शाम 5:58 बजे तक रहेगी।

ऐसे में सूर्योदय से शाम 5:58 बजे तक राखी बांधना शुभ फलदायी होगा। वहीं के पंडित प्रकाश पारीक अनुसार दोपहर 1 बजकर 43 मिनट से 4 बजकर 20 मिनट तक राखी बांधने का विशेष फल मिलेगा।

रक्षाबंधन नजदीक आते ही बाजारों में चहल-पहल शुरू हो गई है। इस बार बाजार में कई स्पेशल राखियां उपलब्ध हैं। इनमें अमेरिकन डायमंड, रुद्राक्ष, स्पीनर, शेयरिंग ब्रो आदि राखियां हैं। जो बहनों को खासी पसंद आ रही हैं। पलटन बाजार में दुकानों पर 30 रुपये से लेकर 300 रुपये तक की राखियां उपलब्ध हैं।
पंडित प्रकाश पारीक
9602765596
9351930547