>


बीकानेर। बीएसएनएल कर्मचारियों व अधिकारियों के सयुंक्त मंच एयूएबी,नयी दिल्ली के राष्ट्रीय आह्वान के तहत बीकानेर मे भी भोजनवकाश में पब्लिक पार्क स्थित महाप्रबन्धक कार्यालय के गेट पर विभिन्न मांगो के निराकरण की मांग को लेकर बीएसएनएल कर्मचारियों व अधिकारियों ने कोविड- 19 के तहत जारी एडवाईजरी के तहत सामाजिक दूरी रखते हुए प्रर्दशन किया तथा पूरे दिन काले बैज पहने रहे। प्रदर्शन के दौरान महाप्रबन्धक कार्यालय के गेट पर एक सामूहिक सभा का आयोजन किया। प्रदर्शनकारियों को सम्बोधित करते हुए एयूएबी,बीकानेर के जिला संयोजक गुलाम हुसैन ने कहा कि निजी कम्पनियों को फायदा पहुंचाने के लिए जान बुझकर बीएसएनएल का 4जी टेंडर निरस्त किया गया। बीएसएनएल को उन्ही शर्तों के तहत 4जी का स्पेक्ट्रम खरीदने की अनुमति दी जावें। जिन शर्तो पर निजी कम्पनियों खरीद रही है। बीएसएनएल के साथ अब तो सरकार सौतेला व्यवहार समाप्त करें।
एसएनईए के जिला सचिव महेश व्यास ने कहा कि बीएसएनएल के पास वर्तमान मे 49,300 4जी बीटीएस है तथा चरणबद्व में 15000 4जी बीटीएस बीएसएनएल और खरीद सकता है। लेकिन सरकार कुछ भी ध्यान नहीं दे रही है। सरकार का एकमात्र उद्वेश्य बीएसएनल की सेवाएं खराब करके इसे बेचना है। बीएसएनएलईयू के जिला उपाध्यक्ष कैलाश खत्री ने कहा कि सरकार का एकमात्र उद्वेश्य कर्मचारियों की छंटनी करना था,जिसमें वो सफल रही है।
प्रदर्शन में मो हनीफ,दीप चन्द,मारुफ खान,अजय सिंह,ओपी भार्गव,कोजाराम, मुन्ना यादव, योगेश माथुर, विकास शर्मा,अजय बलोनी,भरत सिंह मोहन लाल,सोनू भाटिया समेत कई कर्मचारी व अधिकारी मौजूद थे।एयूएबी ,बीकानेर के जिला प्रवक्ता ताहिर हुसैन ने बताया कि सभा स्थल पर संचारकर्मियों ने संचार मंत्री,वितमंत्री मुर्दाबाद,सीएमडी मुर्दाबाद,बीएसएनएल प्रशासन मुर्दाबाद,एयूएबी जिन्दाबाद,अधिकारी कर्मचारी एकता जिन्दाबाद आदि के नारे लगाये।
ये है मांगे
1-बीएसएनएल को 4जी सेवाऐ आरम्भ करने की तुरन्त अनुमति प्रदान की जावे।
2-केन्द सरकार रिवाईवल पैकेज मे लिए गये निर्णयो तुरन्त लागू करे।
3-बीएसएनएल प्रबन्धन द्वारा सेवाओ मे सुधार के लिए तुरन्त आवश्यक कदम उठाये जावे।
4-कर्मचारियों को वेतन भुगतान अन्तिम कार्य दिवस को किए जाने की व्यवस्था की जावे।
5-अनुबंधित कर्मियो को लम्बित भुगतान तुरन्त किया जावे ।