>


जयपुर। राजस्थान लोक सेवा आयोग ने प्राध्यापक (संस्कृत शिक्षा) प्रतियोगी परीक्षा-2018 के प्रवेश पत्र जारी कर दिए हैं। राज्य के सभी संभाग मुख्यालयों पर विषयवार 4 से 7 अगस्त तक परीक्षा कराई जाएगी। अभ्यर्थियों को परीक्षा केंद्रों पर एक घंटा पहले पहुंचने, मास्क पहनने के अलावा कोविड-19 से जुड़े निर्देशों की पालना करनी जरूरी होगी। सचिव शुभम चौधरी ने बताया कि 4 अगस्त को सुबह 9 से 10.30 बजे तक सामान्य ज्ञान विषय की परीक्षा होगी। 5 अगस्त को सुबह 9 से 12 बजे तक हिंदी, दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक अंग्रेजी का पेपर होगा। इसी तरह 6 अगस्त को सुबह 9 से 12 बजे तक साहित्य, दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक व्याकरण, 7 अगस्त को सुबह 9 से 12 बजे तक इतिहास और दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक सामान्य व्याकरण विषय की परीक्षा होगी। मालूम हो कि पूर्व में यह परीक्षा 11 से 14 मई तक होनी थी। कोरोना लॉकडाउन के चलते आयोग ने परीक्षा को स्थगित किया था।
आगे बढ़ाएं तिथि कोरोना संक्रमण के बीच परीक्षा कराने को लेकर कई अभ्यर्थियों ने मुख्यमंत्री, संस्कृत शिक्षा राज्यमंत्री और आयोग को पत्र भेजे हैं। अभ्यर्थियों ने कोराना संक्रमण फैलाव के चलते परीक्षा की तिथि आगे बढ़ाने की मांग की है
भाईयों की कलाई पर सजाई बहनों ने राखी
अजमेर. कोरोना संक्रमण के बीच सोमवार को भाई-बहन के स्नेह का प्रतीक रक्षाबंधन पर्व उत्साह और उल्लास से मनाया गया। बहनों ने भाइयों के तिलक लगाकर और राखी बांधकर उनकी लम्बी उम्र, खुशहाली की कामना की। भाइयों ने अपनी बहन को सार्मथ्य अनुसार उपहार और नकद राशि भेंट की।
रक्षाबंधन पर्व पर बहनों ने भाइयों को तिलक कर, मिठाई खिलाकर और श्रीफल देकर राखी बांधी। साथ ही भाइयों की समृद्धि, परिवार में खुशहाली की मंगल कामना की। भाइयों ने बहनों को उपहार और नकद राशि भेंट की। शहर के मंदिरों में भी भगवान श्रीकृष्ण, लक्ष्मी-नारायण, सिद्धि विनायक, भगवान शिव-पार्वती के राखी बांधी गई। दोपहिया-चौपहिया वाहनों, व्यापारिक प्रतिष्ठानों पर भी रक्षासूत्र बांधा गया। कई जगह पुजारियों ने यजमानों और लोगों के घर जाकर रक्षासूत्र बांधे।