जयपुर। राजस्थान के तीन बड़े शहरों के 6 निगम चुनाव में मिली सफलता के बाद अब गहलोत सरकार 23 नवंबर से होने वाले पंचायत चुनावों की तैयारियों में जुट गई है। राजस्थान कांग्रेस महासचिव व प्रदेश प्रभारी अजय माकन ने चुनावों की तैयारियों को लेकर सीएम अशोक गहलोत से मुलाकात की। दोनों में करीब 3 घंटे बातचीत हुई। इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी भी मौजूद थे। माकन ने प्रदेश में राजनीतिक नियुक्तियों पर भी चर्चा की। अगले महीने गहलोत सरकार के 2 साल पूरे हो रहे हैं। इस अवसर पर गहलोत सरकार विधायकों व कार्यकर्ताओं के लिए राजनीतिक नियुक्तियां देने का ऐलान कर सकती है। हालांकि इससे पहले प्रदेश में जिला परिषद व पंचायत समितियों के चुनाव होने हैं। चुनावों के बाद ही सरकार राजनीतिक नियुक्तियों का ऐलान करेगी। प्रदेश में 23 नवंबर से स्थानीय निकाय व पंचायत समिति सदस्यों के चुनाव शुरू होने वाले हैं।

कैबिनेट फेरबदल के लिए अभी इंतजार करना पड़ेगा

कैबिनेट फेरबदल का इंतजार कर रहे विधायकों को लंबा इंतजार करना पड़ सकता है। सचिन पायलट, विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा को कैबिनेट से हटाने के बाद गहलोत के नजदीकी विधायकों को उम्मीद थी कि उन्हें सरकार में एडजेस्ट करने के लिए कैबिनेट में फेरबदल जल्द होगा। लेकिन 5 महीने से नहीं हो पाया।