>



खुलासा न्यूज, बीकानेर। अजेय योद्धा महाराजा सूरजमल जी की 256वीं जयंती पर बीकानेर जाट छात्रावास में श्रद्धांजलि सभा रखी गई। जिसमें जाट समाज प्रबुध लोगों ने श्रद्धा सुमन अर्पित किए। उसके बाद एक सामाजिक सदभावना गोष्ठी का आयोजन किया। जिसकी अध्यक्षता चेतराम थालोड़ ने की। इस गोष्ठी में पुराने जाट छात्रावास का पुनर्निर्माण और उसके बाद वहां पर एक नया छात्रावास, एक लाइब्रेरी, एक कोचिंग इंस्टीट्यूट और इंडोर खेल मैदान बनाए जाने पर चर्चा हुई। जिसमें समाज के प्रबुद्ध और बुद्धिजीवी गणमान्यों ने अपने-अपने सुझाव दिए। जिसमें जाट छात्रावास के अध्यक्ष चेतराम थालोड़ ने कहा कि यहां पर नया छात्रावास बनाया जाएगा, संस्था के पास पैसों की कोई कमी नही है। आदर्श जाट महासभा राजस्थान के जिलाध्यक्ष रामदेव कस्वां ने कहा कि कोई भामाशाह पुराने कमरों का रिपेयर करवाना चाहे तो उसका स्वागत है। इमीचंद पुनियां ने दोनों छात्रावासों में वार्डन नियुक्त करने का सुझाव दिया। चंद्राराम आर्य ने कहा कि ट्रस्ट की मीटिंग बुलाकर जल्द काम शुरू किया जाए और एक नई सक्रिय कमेटी बनाई जाए।
यूथ कांग्रेस अध्यक्ष बिशनाराम सियाग ने कहा कि पुराने छात्रावास की तुरन्त रिपेरिंग हो और महारानी किशोरी देवी स्कूल को जमीन दी है तो उनका भी कर्तव्य बनता है कि छात्रावास के निर्माण में अपना योगदान दे और साथ ही महारानी किशोरी देवी स्कूल में समाज की बच्चियों के दाखिले में प्राथमिकता दे। शिवलाल गोदारा ने कहा कि नई कमेटी बनाई जाए और ट्रस्ट का खाता खोला जाए और स्वयं ने एक कमरा बनाने की पेशकश की जो सहरानीय है। श्याम सुंदर ज्याणी, प्रोफेसर डूंगर महाविधायल ने कहा कि यहां पर मल्टीस्टोरी होस्टल बनाया जाए साथ ही एक शानदार लाइब्रेरी, कोचिंग इंस्टिट्यूट, इंडोर खेल मैदान और केशवानंद जी संस्थान पीठ व बड़ी प्रतिमा लगाई जाए और आगे की जमीन पर एक मॉल व बैंक बनाया जाए जिससे रेवेन्यू आता रहे और किसान छात्रावास, रानीबाजार की जगह एक प्राइमरी लड़कियों की स्कूल बनाई जाए जिसमें केवल जाट समाज की बच्चियों को ही दाखिला मिले। डॉ राजेन्द्र मूण्ड ने कहा कि हमें एक-दूसरे पर कटाक्ष न करके हमारे पुरखो की धरोवर को संजोए और एक नए छात्रावास का निर्माण करने में समाज आगे आए। तोलाराम भादू ने भी नए छात्रावास के निर्माण में अपना सहयोग देने की बात कही। तोलाराम जाखड़ (टी एन ज्वेलर्स) ने कहा कि नया छात्रावास आगे के 200 वर्षों को ध्यान में रखते हुए शानदार बनाया जाए। उन्होंने कहा कि इसके लिए मेरी तरफ जितनी भी मदद होगी मैं तैयार हूं। मोहन सिहाग (रेशला अध्यक्ष) ने डूंगरपुर का उदाहरण देते हुए कहा कि समाज के हर व्यक्ति को इस ट्रस्ट में हर महीने एक छोटी रकम देनी चाहिए। जिससे ज्यादा बोझ भी ना आये और ट्रस्ट में रेगुलर आय आती रहे जिससे छात्रावास का मेंटिनेंस चलता रहे। मोहन पुनियां ने कहा कि छात्रावास बने हम समाज के साथ है। हनुमान चौधरी (कॉमरेड) ने कहा कि मेरा बीकानेर के तीनों छात्रावासों से गहरा लगाव रहा है मेरी भी यही इच्छा है कि यहां भव्य छात्रावास बने मुझे समाज जो आदेश देगा मुझे मंजूर है। इसके मौके पर पांचू प्रधान प्रतिनिधि भंवरलाल गोरछिया, जाट महासभा अध्यक्ष बीकानेर नोपाराम जाखड़, प्रदेश जाट सेना अध्यक्ष विवेक माचरा, आदर्श जाट महासभा के प्रदेश संगठन मंत्री बीरबल मूण्ड, नंदराम वकील, डॉ शंकर लाल जाखड़, भीखाराम सांगवा, रामचंद्र पोटलिया आदि मौजूद थे।
समाज के सभी गणमान्य लोगों ने नए और शानदार छात्रावास बनाने में अपना तन, मन और धन से सहयोग देने की घोषणा की। अंत में रामचन्द्र पोटलिया को सर्वसमिति से वार्डन की जिम्मेदारी सौंपी। जिसकी उन्होंने सहर्ष स्वीकार की और पूर्व एसडीएम रामचंद्र पोटलिया ने कल से ही छात्रावास में बच्चों के लिए टॉयलेट और बॉथरूम बनाने का काम अपने पैसों से शुरू करने की घोषणा। नंदराम काशनिया ने 5 कमरों की मरम्मत करवाने का बोला। इसी कड़ी में भीखाराम सांगवा (रिडमलसर) वालो ने उनके पिताजी द्वारा बनाये गए कमरे की मरम्मत की घोषणा की। इसी प्रकार शंकर सारण ने भी उनके पिताजी गोपाल सारण द्वारा बनाये गए कमरे की मरम्मत की घोषणा की। इसी तरह चेतन राम सियाग व रामचन्द्र तरड़ द्वारा बनाये गए कमरे की उनके सुपुत्र ने मरम्मत की घोषणा की। इसी कड़ी में सुरेंद्र डोटासरा ने पूरे छात्रावास में नई बिजली फिटिंग की घोषणा की जो बहुत ही सहरानीय कदम है।