दुखदायी है ऐसी मौतें, क्यों हो रही हे आए दिन ऐसी मौतें
दो दिन पहले लूनकरणसर निवासी एक महिला पीबीएम में भर्ती हुई। महिला दर्द से तड़पती रही, कोख में ही बच्चा मर गया फिर भी डॉक्टर्स ने सुध ली तो मां की दर्दनाक मौत हो गई। यह मामला शांत नहीं हुआ उससे पहले ही दूसरा मामला सामने आया गया। आरोप एक ही डॉक्टर्स की लापरवाही। हे भगवान ये क्या किया.. अगर ऐसा ही चलता रहा कि 21 वीं सदी में कमाई डॉक्टर्स की साख पर बट्टा लग जायेगा।

खुलासा न्यूज़, बीकानेर। संभाग के सबसे बड़े अस्पताल पीबीएम के जनान अस्पताल में डॉक्टर्स की लापरवाही के चलते फिर नवजात की मौत होने का मामला सामने आया है। घटना सोमवार रात की है। करमीसर निवासी रामरतन जाट ने बताया कि उसकी बहन को प्रसव पीड़ा शुरू होने से सोमवार दिन में करीब बारह से एक बजे के बीच 108 में पीबीएम लाया गया। जहां से रुक्का आदि बनवाने के बाद दिखाया तो सोनोग्राफी करवाने व लैबर रूम ले जाने का कहा। करीब दो बजे सोनोग्राफी आई जिसके बाद लैबर रूम में ले जाया गया, लेकिन यहां पर समय लगने की बात कही गई। बताया जा रहा है कि शारदा दर्द से तड़पती रही फिर भी डॉक्टर्स को रहम नहीं आय। आरोप है कि ऑपरेशन थियेटर में जाने पर बताया कि वहां किसी वीआईपी की सिफारिश से आई महिला का ऑपरेशन चल रहा है, शारदा के ऑपरेशन के लिए तीन-चार घंटे रुकना पड़ेगा। इसके बाद सीधे रात दस बजे के करीब डिलीवरी करवाई गई। बताया जा रहा है कि शारदा को लड़का हुआ, लेकिन कुछ देर बाद उसकी मौत हो गई।