>


ख़बर न्यूज़ , बीकानेर । बीकानेर संभाग के सबसे बड़े पीबीएम अस्पताल में सफ़ाई कर्मचारी द्वारा मरीज़ के परिजनों से पैसे माँगने के मामले में दोषी सफ़ाई कर्मचारी को हटा दिया गया है । ज़िला कलेक्टर कुमारपाल गौतम के आदेश के बाद पीबीएम अधीक्षक ने मामले को गम्भीरता से लेते हुवे कमेटी गठित की । कमेटी द्वारा विडीओ की पुष्टि करने के बाद सफ़ाई कर्मचारी को हटा दिया गया ।

ख़बर छपने के बाद हुई कार्यवाही
न्यूज़ द्वारा कल शाम को सफ़ाई कर्मचारी द्वारा मरीज़ के परिजनों से पैसे माँगने की ख़बर प्रकाशित की । ख़बर छपने के बाद प्रशासन हल्के में आया । मामले की गम्भीरता को देखते हुवे ज़िला कलेक्टर ने जाँच के आदेश दिए ।

इनका कहना है ….
मामले की गम्भीरता को देखते हुवे कर्मचारी को हटा दिया है ।
– बी.के.बेरवाल , पीबीएम अस्पताल , बीकानेर

यह है पूरा मामला
सोमवार को सड़क दुर्घटना मेंं अधिवक्ता पृथ्वीसिंह घायल हो गए थे जिनको परिजनों ने पीबीएम के ट्रोमा सेंटर में भर्ती करवाया। आज उनके पैर के अंगूठे का ऑपरेशन होना था। ऑपरेशन से पहले ओटी के बार सफाई के नाम राजू नामक कर्मचारी ने मरीज के परिजनों से पैसे मांगे। जब उसे पूछा गया कि सरकारी अस्पताल में किस बात के पैसे मांग रहे हो। तब उसने कहा डॉक्टर साहब ने मंगवाये हैं। आपको बता दें कि यह व्यक्ति पैसे मांगने के बाद भी पूरे रौब के साथ स्ट्रेचर पर पैर रखकर खड़ा था। बढ़ते मामले को देखकर एक अन्य कर्मचारी ने पैसे मांगने वाले कर्मचारी को अपने रूम में बुला लिया।