लूणकरणसर।,जनवरी में होने वाले पंचायत चुनाव के लिए प्रदेश के हर गांव-ढाणी में अब पाले मढ़ने शुरू हो गए हैं। चुनावी सरगर्मी के बीच नए साल की शुरुआत के साथ ही सरपंच पद के उम्मीदवारों ने ताल ठोकना शुरू कर दी है। इस बार पंचायत चुनाव में जबरदस्त रस्साकशी देखने को मिलेगी ।लूणकरणसर पंचायत समिति की रोझा,सहनीवाला ग्राम पंचायत भी इन चुनावी तैयारियों से अछूती नहीं है। नए साल की अग्रिम शुभकामनाओं से शुरू हुआ समर्थन जुटाने के दौर अब और तेज होने जा रहा है। वही रोझा में सामान्य पुरुष तो सहनिवाला में ओबीसी महिला के लिए निर्धारित होने के कारण काफी दावेदार अपनी-अपनी जमीनी हकीकत टटोल रहे हैं,ताकि चुनावी घमासान में उतरने का औपचारिक ऐलान किया जा सके। इसी के साथ बुधवार को बाबा रामदेव मंदिर पर रोझा,सहनीवाला ग्राम पंचायत में बाहर से आकर बसने वाले लोगों ने एकजुट होने को लेकर मीटिंग रखी। जिसमें विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई, जिसमें मुख्य मुद्दा यह रहा की हर योजना में (आलोटी) बाहर से आकर बसने वाले लोग स्थानीय को अपना मत देते आए हैं। लेकिन स्थानीय उम्मीदवारों द्वारा उनके साथ भेदभाव पूर्ण रवैया रखा जाता है। इसी मुद्दे को लेकर दोनों ग्राम पंचायतों से सैकड़ों की संख्या में सभी जाति के बाहर से आकर बसने वाले लोगों ने स्थानीय लोगों द्वारा उनके साथ भेदभाव नहीं करने पर ही समर्थन करने का आह्वान किया ।सभी प्रवासी लोगों का यही कहना है कि अगर रोझा, सहनिवाला ग्राम पंचायतों से पूरा गांव एकमत होकर किसी को समर्थन करता है अलॉटी लोग भी गांव के साथ हैं। इसी के साथ दोनों ग्राम पंचायत एकजुट नहीं होने पर अलॉटी लोगों द्वारा अपना उम्मीदवार निकालने की भी बात कही गई । साथ सभी अलॉटी लोगों ने एकजुट रहने का भी एक-दूसरे को विश्वास दिलाया और हर विकट परिस्थितियों में एक दूसरे का सहयोग करने का आह्वान किया।