>




खुलासा न्यूज बीकानेर। नगर निगम की ओर से नियम विरुद्ध 09 सफाई कर्मचारियों को स्वच्छता निरीक्षक पद के विरुद्ध लगाए गए कार्यवाहक स्वच्छता प्रभारियों के आदेश को तत्काल निरस्त करना होगा। डीएलबी की ओर से आदेश जारी करने के बाद भी निगम आयुक्त की ओर से आदेश की पालना नहीं करने पर डीएलबी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए इसे राजकार्य में उदासीनता एवं अवहेलना बताया है।
डीएलबी की उप निदेशक प्रशासन कविता चौधरी ने गुरुवार को आयुक्त को भेजे पत्र में स्वच्छता निरीक्षक पद के विरुद्ध लगाए गए 09 कार्यवाहक स्वच्छता प्रभारियों के आदेश को तत्काल निरस्त करने के आदेश दिए है। निगम की ओर से 18 सितम्बर 2020 को स्वच्छता निरीक्षक पद के विरुद्ध 09 कार्यवाहक स्वच्छता प्रभारी के रूप में सफाई कर्मचारी सुनील चांवरिया, विक्रम लोहरा, कमल चांवरिया, कपिल जैदिया, नवरत्न, देवेन्द्र तेजी, सुभाष तेजी, शिवशंकर चांवरिया और अमित तेजी को लगाया गया था।
उप निदेशक के आदेश अनुसार निगम आयुक्त को इन नौ सफाई कर्मचारियों को उनके मूल पद का कार्य करवाए जाने की कार्यवाही करने के लिए कहा गया है। ऐसा नहीं करने पर आयुक्त के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की बात आदेश में कही गई है। आदेशों के बाद भी ढिलाइ डीएलबी ने निगम आयुक्त को 15 फरवरी को आदेश जारी कर नौ कार्यवाहक स्वच्छता प्रभारियों के आदेश को निरस्त कर उनसे मूल पद सफाई कर्मचारी का कार्य लिए जाने के आदेश दिए गए थे। करीब बीस दिन तक आयुक्त की ओर से डीएलबी के आदेशो की पालना नहीं की गई व मामले को लटकाए रखा गया। इस पर डीएलबी ने नाराजगी जताते हुए गुरुवार को एक और आदेश जारी कर इन नौ स्वच्छता प्रभारियों के आदेश को तत्काल निरस्त कर इनसे मूल पद का कार्य लिए जाने का आदेश दिया है।