खुलासा न्यूज़, बीकानेर। शिक्षा के मंदिर में डेढ़ माह से छात्राओं को अश्लील क्लिप दिखाने के मामले में नयाशहर पुलिस ने बीएड इंटर्नशिप करने वाले शिक्षक को गिरफ्तार किया है। आरोपित धर्मेन्द्र बिश्नोई को कल न्यायालय में पेश किया जाएगा। थानाधिकारी गुरु भूपेंद्र ने बताया कि सरकारी स्कूल में इंटर्नशिप करने वाले शिक्षक धर्मेन्द्र बिश्नोई पर यह आरोप लगाया गया कि वह पिछले एक-डेढ़ माह से छात्राओं के साथ अश्लील हरकतें कर रहा था। उन्हें मोबाइल में गंदी फिल्में दिखाने के साथ-साथ शरीर को गलत तरीके से छूता था। इस मामले को लेकर आरोपित के खिलाफ पोक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया। संगीन मामले को देखते हुए आरोपित को त्वरित गिरफ्तार किया गया।

ऐसे हुआ खुलासा
हुआ यूं कि एक छात्रा ने घर से स्कूल जाने से मना किया। इस पर उसकी मां ने वजह पूछी तो उसने आपबीती बताई कि स्कूल शिक्षक धर्मेन्द्र उसे अकेली को कमरे में ले जाता है और गलत हरकतें करता है। वह यह सब उसके अलावा अन्य कई छात्राओं के साथ भी कर रहा है। यह सुनकर पीडि़ता की मां का खून खौल उठा।

जानिए पीडि़ता बच्ची की जुबानी
चौथी कक्षा की 12 वर्षीय छात्राओं ने बताया कि आरोपित शिक्षक ने उसे तीन बार गलत तरीके से छुआ। एक बार मिड डे मील की रसोई में, फिर कक्षा में होमवर्क कर रही थी तब और प्रश्न पत्र हल कर रही थी उस समय से शिक्षक ने गंदी हरकत की। पांचवी कक्षा की छात्रा ने बताया कि वह होमवर्क कर रही थी तब आरोपी शिक्षक धर्मेन्द्र ने जान बूझकर कमीज खोल दिया। मोबाइल में गंदी फिल्म दिखाई और इन सब के बारे में घर पर नहीं बताने का कहा।

महिलाओं ने आरोपित को चप्पलों से की पिटाई
पीडि़ता की मां ने सरकारी स्कूल में पढऩे वाली छात्राओं के परिजनों को यह बात बताई तो कई छात्राओं ने इस तरह के आरोप शिक्षक धर्मेन्द्र पर लगाए। इसके बाद पूरी कॉलोनी के लोग एकत्रित होकर स्कूल पहुंचे और महिलाओं ने आरोपित शिक्षक की चप्पलों से पिटाई कर डाली।