>



खुलासा न्यूज़, बीकानेर। संभाग के सबसे बड़े महाविद्यालय डूंगर बीकानेर के युवा विकास केन्द्र में एन.एस.एस के स्वयं सेवकों एवं संकाय सदस्यों ने विवेकानन्द जयन्ती मनाई। एनएसएस के समन्वयक डॉ. सत्यनारायण जाटोलिया ने बताया कि कार्यक्रम के मुख्य वक्ता प्राचार्य डॉ. सतीश कौशिक रहे जिन्होंने बताया कि प्रत्येक व्यक्ति को मैं तक सीमित नहीं रहना चाहिए उसे दूसरे के बारे में सौचना चाहिएं।
ऐसा विवेकानन्द जी कहते थे। कार्यक्रम के दौरान विवेकानन्द केन्द्र कन्याकुमारी की राजस्थान प्रान्थ संगठक प्रांजली जी के विडियों में स्वामी विवेकानंद के विचारों और उदेश्यों को सूना। कार्यक्रम के दौरान ही माननीय शिक्षा मंत्री भंवर सिंह जी भाटी ने जयपुर से विडियों कान्फ्रेंसींग द्वारा विवेकानन्द जयन्ती की शुभकामनाऐं दी। माननीय मंत्री जी ने युवा के लिए राजस्थान सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न लाभान्वित योजना के बारे में बताया और युवाओं से आग्रह किया कि वे इन योजनाओं का पूर्ण फयदा उठायें जिससे उनका भविष्य बन सके। माननीय मंत्री ने बताया कि हमारी सरकार युवाओं के उज्ज्वल भविष्य के लिए सतत् प्रायस कर रही है और करती रहेगी । विभिन्न कार्यक्रम के दौरान वरिष्ठ संकाय सदस्य डॉ. जी.पी. सिंह, डॉ. वी.के. ऐरी, डॉ. दिव्या जोशी, डॉ. सन्दीप यादव एवं अन्य संकाय सदस्य उपस्थित रहें । राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयं सेवको ने विवेकानन्द जी के पुष्प चित्र पर पुष्प अर्पित कर उनके दिये गये उपदेशों को अनुसरण करने की बात कही । अंत में डॉ. संदीप यादव ने धन्यवाद ज्ञापन किया।