>

बीकानेर। विप्र फाउंडेशन की राष्ट्रीय परिषद की बैठक और राष्ट्रीय अधिवेशन आगामी 21 और 22 मार्च को ऋ षिकेश में होगा। जिसको लेकर बीकानेर स्थित राजस्थान विप्र फाउंडेशन जॉन फर्स्ट बी कार्यालय में प्रदेशाध्यक्ष भंवर पुरोहित ने बैठक लेते हुए जोन के लिए सभी पदाधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी। पुरोहित ने बताया की इस राष्ट्रीय अधिवेशन में देश-विदेश से 300 विप्र प्रतिनिधि शामिल होंगे।विप्र समाज के उत्थान सहित सर्वजन हितार्थ में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए जाएंगे। पुरोहित ने बताया कि 500 विप्र शाखाओं के माध्यम से दसहजार कार्यकर्ताओं की टीम तैयार की जाएगी जो कि सम्पूर्ण भारत मे विप्र अलख जगाने के लिए कार्य करेगी। इसके अलावा न्याय प्रतिबद्धता व स्वाभिमान रक्षा हेतु विप्र सेना का भी गठन किया जाएगा। साथ ही राष्ट्रीय एवं प्रांतीय सहित सभी सांगठनिक इकाईयों का भी पुनर्गठन किया जाएगा। पुरोहित ने बताया कि अधिवेशन में कई केन्द्रीय मंत्री, देश के प्रमुख राजनेता, सांसद, विधायक और प्रादेशिक सरकारों में मंत्रीगण भी भाग लेंगे।

विप्र फाउंडेशन आईटी सेल प्रदेश संयोजक नितिन वत्सस ने बताया कि आज पुरोहित ने राजस्थान प्रदेश विप्र फाउंडेशन जॉन फर्स्ट बी के तहत आने वाले सभी जिलों से पंजीयन के लिए गोपाल जोशी को प्रभारी बनाया गया। इसके अलावा जिलों में समन्वय स्थापित करने हेतु पदाधिकारियों को जिमेदारी सौंपी। प्रदेश कार्यालय में आयोजित बैठक में भवर रमेश उपाध्याय,कामिनी भोजक,गोपाल जोशी धनसुख सारस्वत,मुकेश सारस्वत,कार्यालय प्रभारी देवेन्द सारस्वत,नितिन वत्सस ने कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया।