>



नागौर। राजस्थान के नागौर में शुक्रवार को एक खेत में 5 मोर मृत मिले हैं। वहीं, 12 मोर बीमार मिले हैं। मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने वन विभाग को इसकी सूचना दी। वन विभाग ने बीमार मोरों का इलाज शुरू किया। मामला जनाणा गांव का है। शुरुआती जांच में पता चला है कि जनाणा गांव में किसानों ने फसलों पर कीटनाशक का छिड़काव किया था। ऐसे में आशंका है कि कीटनाशक के छिड़काव के बाद मोर ने फसलों के दानों को खाया, जिसमें कीटनाशक होने के चलते उनकी मौत हो गई। हालांकि, वन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि मोर की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारण स्पष्ट होंगे।
पहले भी मिल चुके हैं मोरों के शव
इससे पहले दिसंबर में अजमेर के भिनाय में 50 मोर मृत मिले थे। वहीं, नवंबर में अलवर जिले में कोटकासिम के भोंकर गांव में नौ मोर मृत मिले थे। जांच में पता चला है कि खेत में बुआई के दौरान डाले जाने वाले बीज खाने के कारण मोरों की मौत हुई।