>


खुलासा न्यूज़, जयपुर। रालोपा सांसद हनुमान बेनीवाल की ओर से पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को लेकर किए गए ट्वीट को लेकर पार्टी गंभीर नजर आ रही है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बेनीवाल को साफ किया है कि राजस्थान में चल रहे राजनीतिक घटनाक्रम को लेकर वे भाजपा के किसी भी नेता को लेकर कोई टिप्पणी नहीं करेंगे। हालांकि नड्डा की नसीहत के बाद भी बेनीवाल की ओर से किए गए ट्वीट नहीं हटाए गए हैं। भाजपा मुख्यालय पर भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और उप नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया की बेनीवाल से बात हुई। बेनीवाल ने कहा है कि वो भविष्य में इस तरह की टिप्पणी नहीं करेगी। कटारिया ने कहा कि बेनीवाल से मेरी बात हुई थी। उनके किसी स्टाफ ने यह काम किया है। बेनीवाल ने कहा है कि उन्होंने किसी टीवी के सामने यह बात नहीं की है। मैंने उन्हें कहा है कि ये कृत्य सही नहीं है। जिस पार्टी के साथ मिलकर काम कर रहे हो, उसमें इस प्रकार की बात कहना उचित नहीं है। मैंने वसुंधरा राजे से भी बात की है। आपको बता दें कि पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत तथा पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के बीच गठजोड़ को लेकर आरोप लगाए थे। इसके बाद बेनीवाल ने आरोप लगाया कि वसुंधरा राजे लगातार अल्पमत वाली अशोक गहलोत सरकार को बचाने का प्रयास कर रही है और कांग्रेस पार्टी में उनके करीबी विधायकों से वह लगातार संपर्क में है।बेनीवाल ने आरोप लगाया कि वसुंधरा राजे लगातार अल्पमत वाली अशोक गहलोत सरकार को बचाने का प्रयास कर रही है और कांग्रेस पार्टी में उनके करीबी विधायकों से वह लगातार संपर्क में है।