बीकानेर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि भारत का पानी पाकिस्तान जाता रहा। राजस्थान पानी के लिए तरसता रहा। जो पाकिस्तान हमारा खून बहाए। जो हमारे खून का प्यासा हो। हम अपना पानी उसे नहीं दे सकते। जो पाकिस्तान भारत को हजारों घाव देने के सपने पाले बैठा है। उसके हजारों लीटर पानी देना सही नहीं है। हम कतई हमारे हक का पानी किसी को नहीं देंगे। वे शुक्रवार को सादुल क्लब मैदान में भाजपा प्रत्याशी अर्जुनराम मेघवाल के चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कांग्रेस ने हमेशा किसानों को धोखा दिया, देश के जवानों को धोखा दिया है। उन्होंने कहा कि जिन लोगों को कुर्सी प्यारी हो वो देश का भला नहीं कर सकते हैं। कांग्रेस ने झूठ और फरेब के दम पर राजस्थान का विधानसभा चुनाव जीता है। इन्होंने कहा कि सरकार बनते ही 10 दिन के अंदर किसानों की संपूर्ण कर्जमाफी करेंगे, बेरोजगार युवाओं को भत्ता देंगे। किसी को मिला क्या।कांग्रेस कह रही है कि अब हम गरीबी पर वार करने जा रहे हैं। जबकि इन्होंने गरीबों पर वार किया और 55 साल तक वार किया। अब ये फिर से झूठ बोल रहे हैं और कह रहे हैं कि हमें वोट दीजिए, हम 72 हजार हर गरीबों के खातों में डालेंगे।
वाड्रा पर साधा निशाना
मोदी ने कहा कि कांग्रेस के जमाई राजा ने बीकानेर के किसानों की जमीनों को हड़पकर उन्हें बेघर कर दिया। उनका रोजगार छिन लिया। ऐसी पार्टी को सबब सिखाने का आपके पास अच्छा मौका है। मोदी ने बार-बार सेना के शौर्य और आतंकवाद के सफाये की बात करते हुए उन्होंने लोगों से पूछा कि क्या आपको आतंकवादी के घर में घुसकर मारने वाली सरकार चाहिए या नहीं। अगर ऐसी सरकार चाहिए तो चौकीदार भी मजबूत चाहिए और कमल को ताकत भी चाहिए।
कांग्रेस और भाजपा के तरीकों की नहीं हो सकती तुलना
मोदी के मंच पर आते ही हर-हर मोदी, घर-घर मोदी के नारों से पांडाल गूंजायमान हो गया। करीब 40 मिनट तक दिए गए भाषण के शुरुआत में मोदी ने हाथ जोड़कर जनता से जीत का आशीर्वाद लिया। कहा कि आप मालिक हो और मैं सेवक। जो जनता चाहेगी, वही मोदी करेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि आतंक और आतंकियों से निपटने के मामले में कांग्रेस और भाजपा के तरीकों की तुलना नहीं हो सकती। कांग्रेस कहती थी कि हरेक आतंकी हमला रोकना संभव नहीं है, जबकि हमने यह साबित किया है कि जम्मू-कश्मीर के दो-तीन जिलों को छोड़कर आतंकी अब सेना व आम आदमी पर हमला नहीं कर सकते। हमने आतंक के खिलाफ अपने संकल्प को सिद्ध करके दिखाया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत माता की जय का नारा इतनी जोर से लगना चाहिए कि आवाज सीमा पार पहुंचे। आतंकवाद और मजबूत भारत के इर्दगिर्द चले पूरे भाषण में नरेंद्र मोदी ने कई बार सर्जिकल स्ट्राइक, डोकलाम, जैसे मुद्दों को दोहराया। उन्होंने कहा कि मजबूत सरकार आपकी वजह से बनी है। अगर आप कमल के निशान पर वोट नहीं देते तो 30 साल बाद देश को मजबूत सरकार नहीं मिलती।
बेटा भले ही हार जाए, मेघवाल नहीं जीतना चाहिएÓ
संसद में राबर्ट वाड्रा के जमीन संबंधी मामलों को उठाने के लिए बीकानेर लोकसभा प्रत्याशी अर्जुनराम मेघवाल की तारीफ करते मोदी ने कहा कि यही वजह है कि मुख्यमंत्री नहीं चाहते कि बीकानेर से अर्जुन मेघवाल जीतें। अगर ये जीतेंगे तो मुद्दे उठाएंगे। उन्होंने कहा कि इस वजह से अशोक गहलोत को अपने बेटे की चिंता नहीं है,उन्हें तो ये चिंता सता रही है कि कही अर्जुनराम न जीत जाएं।
‘यह परिश्रम करने वालों का अपमानÓ
पिछले दिनों राहुल गांधी द्वारा देहात कांग्रेस अध्यक्ष महेंद्र गहलोत को दिल्ली आकर बाल काटने वाली बात पर राहुल आडे हाथों लेते कहा कि उनके सुनने में ऐसा आया है कि नामदार ने यह कहा है। बाल काटने वाला, चौकीदार हो चाहे चाय वाला हो, हर कोई अपने कौशल से खाता है। बड़ी मेहनत करता है। बड़े परिश्रम से कमाता है। अगर कोई भी ऐसा अपमान करता है तो मैं अपना अपमान मानता हूं। यह अपमान बीकानेर के एक युवक, कांग्रेस के अध्यक्ष का नहीं, यह परिश्रम करने वालों का अपमान है।
‘मोदी-मोदीÓ के शोर में विचलित हुए मोदी
भाषण के दौरान मोदी मोदी के नारों से विचलित मोदी ने कहा मैं आपको कुछ कहने आया हूं। उसे सुन तो लिजिए। लोगों को आगे आता देख उन्होंने कहा कि आप जहां हैं, वहीं स्थान ग्रहण करें।
इनकी रही मौजूदगी
सभा के दौरान केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर,प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना,प्रदेश महामंत्री कैलाश मेघवाल,विधायक राजेन्द्र राठौड़,सिद्विकुमारी,नोखा विधायक बिहारी बिश्नोई, लूनकरणसर विधायक सुमित गोदारा,शहर भाजपा अध्यक्ष सत्यप्रकाश आचार्य,महापौर नारायण चौपड़ा, विधायक शिमला बावरी,विजय आचार्य,पूर्व संसदीय सचिव डॉ विश्वनाथ व सहीराम दुसाद मौजूद थे।