बज्जू में राजस्व तहसील बज्जू और उप खण्ड कार्यालय का उद्घाटन
खुलासा न्यूज, बीकानेर। उच्च शिक्षा राज्य मंत्री भंवर सिंह भाटी ने मंगलवार को बज्जू में राजस्व तहसील बज्जू और उप खण्ड कार्यालय का उद्घाटन किया। इस अवसर पर उच्च शिक्षा राज्य मंत्री ने कहा कि कोलायत विधानसभा क्षेत्र का सर्वांगीण विकास उनकी प्राथमिकता में है। उन्होंने कहा कि विकास में ग्रामीणों की सीधी भागीदारी है। अत: अपने क्षेत्र के विकास के लिए ग्रामीण सजग रहें।
उन्होंने बज्जू को तहसील राजस्व व उपखंड अधिकारी कार्यालय की सौगात देते हुए कहा कि बज्जू कस्बा विकास की ओर अग्रसर है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के वायदे के अनुसार पहले ही बजट में बज्जू में कॉलेजए राजस्व तहसील और उपखंड अधिकारी कार्यालय खोलकर अपने वादे को निभाया है। बज्जू में अब ब्लॉक स्तर के सभी कार्यालय शुरू होंगे। ग्रामीणों को इससे पहले अपने कार्यों के लिए कोलायत जाना पड़ता था। अब उनके समयधन की बचत हो सकेगी।
भाटी ने कहा कि बज्जू में महाविद्यालय की न केवल शुरुआत की गई बल्कि 250 बच्चों ने इसमें प्रवेश लिया है। बज्जू में चार नई ग्राम पंचायतें बनाई गई है। यह क्षेत्र लंबे समय से उपेक्षित रहा है। अब सरकार में हमारी सीधी भागीदारी होने की वजह से यह विकास की ओर अग्रसर है। उन्होंने कहा कि बज्जू से सांखला फांटा तक की जो रोड टूटी हुई है उसके निर्माण के प्रयास किए जा रहे हैं। यह सड़क नेशनल हाईवे में शामिल होने की प्रक्रिया के कारण नहीं बन पा रही हैए लेकिन इसका कार्य करवाने की दिशा में प्रयासरत है।
बज्जू में मिनी सचिवालय बनाया जाए
भाटी ने कहा कि ग्रामीणों को अपने कार्यों के लिए अलग अलग कार्यालयों में नहीं जाना पड़े इसके लिए मिनी सचिवालय बनाने के लिए बज्जू के आसपास 250 बीघा जमीन चिन्ह्ति करने के लिए उपखण्ड अधिकारी को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने उपखण्ड अधिकारी से कहा कि किसानों की जमीनों से सम्बन्धित सभी समस्याओं का समाधान किया जाए। ग्रामीणों को लगना चाहिए कि उपखण्ड अधिकारी कार्यालय यहां खुलने से उन्हें बड़ी राहत मिली है। ग्रामीणों ने खाद्य सुरक्षा में नाम जुड़वाने की मांग पर उन्होंने कहा कि ऐसे लम्बित मामलों का निपटारा कर पात्र लोंगों को राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ दें। उच्च शिक्षा राज्य मंत्री ने कहा कि कोलायत विधानसभा क्षेत्र का सर्वांगीण विकास उनकी प्राथमिकता में है।
आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने किया स्वागत
बज्जू में उरमूल द्वारा संचालित आंगनबाड़ी की कार्यकर्ताओं को राज्य सरकार द्वारा संचालित करवाने पर आंगनबाडी कार्यकताओं ने मंत्री भाटी का स्वागत किया।
3 कक्षा-कक्षों का किया लोकार्पण

इस अवसर पर भाटी ने राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय बज्जू में ग्राम पंचायत द्वारा 21 लाख रूपए की लागत से निर्माण करवाए गए 3 कक्षा.कक्षों का लोकार्पण किया। इस अवसर पर आयोजित बाल सभा में भाटी ने कहा कि बच्चे अपने माता.पिता और गुरूजनों का सम्मान करें। नियमित रूप से स्कूल जाएं। आपके माता पिता की आपसे बहुत सी अभिलाषाएं हैंए उस पर खरा उतरने का प्रयास करें। उन्होंने कहा कि शिक्षा से ही हम अपने जीवन का सपना पूरा कर सकते हैं। बेटे और बेटियां हमारे देश का भविष्य है। अभिभावक और शिक्षक इनको नई दिशा दें। उन्होंने कहा कि अब तक यह क्षेत्र उच्च शिक्षा से वंचित था। लेकिन यहां महाविद्यालय खुलने से यहां के बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए बीकानेर नहीं जाना पड़ेगा। इस अवसर पर उन्होंने शाला परिवार की ओर से उपलब्ध करवाई गई 40 स्वेटर बीपीएल परिवार के विद्यार्थियों को प्रदान की। इससे पूर्व उन्होंने बज्जू में ग्राम पंचायत द्वारा किए गए सीसी ब्लॉक रोड़ का भी लोकार्पण किया। ।
की जनसुनवाई
उच्चशिक्षा मंत्री ने उपखण्ड अधिकारी कार्यालय परिसर में ग्रामीणों के अभाव अभियोग सुने। ग्रामीणों ने पानीए बिजलीए अध्यापकों के रिक्त पद भरवानेए खातेदारीए नामान्तरण आदि के लिए ज्ञापन दिए। इस अवसर पर उपखण्ड अधिकारी प्रदीप कुमार चाहरए तहसीलदार हरीसिंह शेखावतए विकास अधिकारी दिनेश सिंह भाटीए बज्जू सरपंच मंगलाराम खिलेरीए बज्जू पंचायत समिति सदस्य श्रवण कुमार गोदाराए तहसीलदार कोलायत हनुमान सिंह देवलए पूर्व सरपंच मांगूसिंह भाटीए पूर्व प्रधान गणपत सिंह बिश्नोईए कप्तान मोहनलाल गोदाराए गणपतराम सहित बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधि एवं आमजन उपस्थित थे।
तहसील बज्जू एक नजर में
इससे पहले बज्जू कोलायत तहसील में शामिल थी। राज्य सरकार ने उप तहसील बज्जू को क्रमोन्नत कर नवीन तहसील का सृजन किया है। इस तहसील के लिए फरवरी 2018 को वित्तीय स्वीकृति जारी की गई । वर्तमान तहसील बज्जू पूर्व में उप तहसील कोलायत संख्या 1, 2 व 3 के विलय के बाद उप तहसील से तहसील में क्रमोन्नत हुई है। इस तहसील का भौगोलिक क्षेत्रफल 435408 हेक्टेयर है, राजस्व ग्रामों की संख्या 85 और कुल 24 ग्राम पंचायतें है। पटवार मंडल 20 और पुलिस थाना एक है तथा तहसील की जनसंख्या 1, 02, 508 है।