>


बीकानेर। मौसम के बदलाव के साथ ही जोड़ो में दर्द और घुटनों में होने वाली परेशानियों से निजात दिलाने के लिए सम्पर्क ओर संवाद कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें डॉ अनूप झुरानी ने  बिना ऑपरेशन के जोड़ो के रोग से कैसे बचा जा सकता है तथा बदल रही दिनचर्या में इस बीमारी से किस प्रकार निजात मिल सकती है। इसकी जानकारी दी। राजस्थान पेशनर्स इंजीनियर्स सोसायटी व वरिष्ठजन नागरिक समिति,फोर्टिज अस्पताल के  सहयोग से आयोजित इस कार्यक्रम में डॉ झुरानी ने बताया कि  बरसाती मौसम के कारण वरिष्ठजनों में ये समस्या ज्यादा होती हैं। जिससे दिनों दिन ऐसे रोगियों की संख्या बढ़ती जा रही है। राजस्थान में यह आंकड़ा पिछले सालों से 5 प्रतिशत बढ़ा है। यही नही युवाओ ओर बच्चों में भी जोड़ो के दर्द  कि समस्या अब आम हो गई हैं। फास्ट ओर जंक फूड के अधिक प्रयोग व शारीरिक कसरत कम होने  के चलते बढ़ रहे मोटापे के कारण भी जोड़ो के रोगियों में इजाफा हुआ है। इस दौरान आयोजित नि:शुल्क परामर्श शिविर में करीब सौ से ज्यादा रोगियों का परीक्षण कर उन्हें उचित मार्गदर्शन दिया।